image

आजकल एेसे कर्इ लाेग हैं जाे माेटापे की समस्या से बहुत परेशान हैं। लेकिन माेटापे की समस्या का कारण भी हम खुद ही बनते हैं। ताे आइए आज हम आपकाे माेटापे से राहत पाने का सबसे आसान तरीके के बारे में बताने जा रहे हैं। कर्इ लाेग एेसे हाेते हैं जिन्हें नाश्ता करने की आदत नही हाेती लेकिन शायद वाे ये नही जानते कि उनकी ये आदत माेटापे काे बढ़ाने का सबसे बड़ा कारण बनती है। 

ये हम नहीं कह रहे बल्कि एक रिसर्च में बात सामने आई है। जानकारी के लिए बता दें कि एक शोध के निष्कर्ष से पता चलता है कि अक्सर नाश्ता करने वाले 10.9 फीसदी लोगों की तुलना में नाश्ता न करने वाले 26.7 फीसदी लोग मोटापे का शिकार थे। 

अमेरिका के मेयो क्लीनिक के शोधकर्ता केविन स्मिथ का कहना है कि कभी-कभी नाश्ता करना शरीर के मध्य भाग के मोटापे और भार बढ़ने से जुड़ा हुआ है और यह जुड़ाव कभी नहीं नाश्ता करने वालों में ज्यादा स्पष्ट रूप से दिखता है। इसके अलावा जिन्होंने कभी नाश्ता नहीं किया, उन्होंने बीते सालों में खुद ज्यादा वजन बढ़ने की सूचना दी है।

इस शोध के लिए दल ने 2005 से 2017 तक 347 लोगों के नाश्ते की आदतों का अध्ययन किया। इन प्रतिभागियों की उम्र 18 से 87 साल रही और इनकी ऊंचाई, भार, कमर व कुल्हे के घेरे को मापा गया। इन बाताें काे ध्यान में रखते हुए नाश्ता करना ना छोड़े।


 

DainikSavera APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS

Web Title: how to lose weight naturally

More News From health

Next Stories
image

Auto Expo Amritsar 2019
Auto Expo Amritsar 2019
free stats