image

अमृतसर : शुक्रवार की रात लुटेरों ने बेकरी के मालिक पर गोली चलाकर लाखों रुपए की नकदी और सोने की अंगूठियां लूट लीं। पुलिस जांच में सामने आया है कि लुटेरे होमवर्क करके आए थे। उन्हें इस बात की पूरी जानकारी थी कि रमेश कुमार ग्रोवर कब बेकरी बंद कर घर के लिए निकलते हैं। शुक्रवार की रात उन्होंने कितने रुपए, कौन-सी जेब में रखे हैं। इतना ही नहीं लुटेरों को यह भी मालूम था कि रुपए काले रंग के पॉलीथीन में रखे हैं। लूट की वारदात पुलिस चौकी शिवाला बाग भाइया के नजदीक हुई है। रमेश कुमार ग्रोवर ने पुलिस को बताया कि वह और उनका परिवार रामबाग हाइड मार्कीट के नजदीक ग्रोवर बेकरी चलाते हैं।

‘द एक्सीडेंटल प्राइम मिनिस्टर’ ने विरोध के बावजूद कमाए इतने कराेड़

शुक्रवार की रात 10:30 बजे बेकरी बंद कर पूरे दिन की सेल लेकर भाई के साथ घर वापस लौट रहे थे कि हुकम सिंह रोड पर हुसैनपुरा पुल से नीचे उतरकर डा. सभ्रवाल की कोठी के नजदीक पहुंचे तो मोटरसाइकिल पर सवार 2 युवकों ने उन्हें रोका। एक युवक ने उन्हें पिस्तौल दिखाकर गोली मारने की धमकी देते हुए रु पयों की मांग की और इंकार करने पर लुटेरे ने गोली चला दी। गोली उनके पांव की तरफ जमीन पर चलाई। वह बाल-बाल बच गए। इसके बाद उन्होंने लुटेरों को ऊपर वाली जेब से 4000 निकाल कर दिया। लुटेरों ने कहा कि अपनी जैकेट की जेब में रखे काले रंग के पॉलीथिन को निकालो जिसमें रु पए हैं।

Pics: ऑरेंज लहंगे के साथ हैवी ज्वैलरी ने लगाए 'दुल्हन' सपना चौधरी की खूबसूरती में चारचांद

उन्होंने लिफाफा निकालकर दे दिया जिसमें डेढ़ लाख रु पए थे। बाद में उनके हाथ से सोने की 2 और उनके भाई से 1 अंगूठी भी लूट ली और फरार हो गए। दोनों लुटेरों ने मुंह पर रूमाल बांध रखे थे। वारदात को अंजाम देते समय लुटेरों ने कहा कि वह बेकरी से ही उनका पीछा करते आ रहे थे। वारदात की सूचना पुलिस को दी गई। ए.डी.सी.पी. सिटी वन जगजीत सिंह वालिया पुलिस बल के साथ मौके पर पहुंचे।

दिल्ली की वायु गुणवत्ता 'गंभीर श्रेणी' में, सिर्फ बारिश ही दिला सकती है निजात

उन्होंने कहा है कि केस दर्ज कर लिया गया है और लुटेरों की तलाश की जा रही है। जल्द ही लुटेरे पुलिस की पकड़ में होंगे।
थाना मजीठा रोड और चौकी शिवाला बाग भाईया पुलिस भी मौके पर पहुंची। पुलिस की ओर से लुटेरों का पता लगाने के लिए अलर्ट जारी कर दिया गया।

DainikSavera APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS

Web Title: Homework had come, the robbers knew what was in pocket money

More News From amritsar

Next Stories
image

free stats