image

मुंबई : फेडरेशन ऑफ वेस्टर्न इंडिया सिने एम्प्लॉइर्ज एफडब्ल्यूआईसीईी ने पुलवामा आतंकी हमले की पृष्ठभूमि में व्रिकेटर से राजनेता बने नवजोत सिद्धू की विवादित टिप्पणियों को लेकर उन पर प्रतिबंध लगाने की मांग की है. ‘द कपिल शर्मा शो’ में नजर आने वाले सिद्धू ने पुलवामा आतंकी हमले की निंदा की थी लेकिन उस समय वह एक विवाद में फंस गये थे जब उन्होंने कहा कि क्या कुछ लोगों के काम के लिए पूरे देश को जिम्मेदार ठहराया जा सकता है.पिछले साल इमरान खान के पाकिस्तान के प्रधानमंत्री के तौर पर शपथ ग्रहण समारोह में आमंत्रित लोगों में सिद्धू भी शामिल थे।

 पंजाब के कैबिनेट मंत्री की टिप्पणी से सोशल मीडिया पर एक हंगामा शुरु हो गया और कई लोगों ने उन्हें ‘द कपिल शर्मा शो’ से हटाये जाने की मांग की। शनिवार को सोनी इंटरटेनमेंट टेलीविजन को भेजे एक बयान में एफडब्ल्यूआईसीई ने कहा कि सिद्धू को अपनी टिप्पणियों के लिए माफी मांगनी चाहिए जिससे ना केवल देश की संवेदनाओं आहत हुई हैं बल्कि इसे एक भारत-विरोधी स्वरुप में भी लिया गया है. बयान में कहा है, ‘‘समाजिक और राष्ट्रीय हित में एफडब्ल्यूआईसीई के पांच लाख कामगारों की तरफ से हम आपसे आग्रह करते हैं कि आप कृपया उन्हें ‘द कपिल शर्मा शो’ पर तब तक प्रतिबंधित कर दें जब तक वह देश और राष्ट्र के लिए कर्तव्य निभाते हुए अपने प्राण न्यौछावर करने वाले शहीदों से बिना शर्त माफी नहीं मांगते हैं. ऐसे खबरें भी हैं कि चैनल ने सिद्धू ‘द कपिल शर्मा शो’ से हटा दिया है लेकिन इस बारे में कोई अधिकारिक पुष्टि नहीं हुई है.

 खबरों में दावा किया गया है कि कुछ हॉस्य कार्यव्रमों में निर्णायक की भूमिका निभाने वाली अभिनेत्री अर्चना पूरण सिंह, सिद्धू के स्थान पर नजर आएंगी। हालांकि, अभिनेत्री ने खबरों को खारिज किया है. अर्चना ने ‘पीटीआई-भाषा’ को बताया, ‘‘किसी ने भी मुङो यह कहते हुए शो का प्रस्ताव नहीं दिया है कि मैं सिद्धू की जगह लूंगी। यह सच नहीं है कि मैं उनका स्थान ले रही हूं। मुङो चैनल या टीम से कोई फोन नहीं आया है. किसी ने अभी तक मुझसे संपर्क नहीं किया है. उन्होंने कहा, ‘‘मैंने नौ और 13 फरवरी को कार्यव्रम के लिए शूटिंग की थी लेकिन यह बस इतना ही है.

DainikSavera APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS

Web Title: FWICE demanded ban on Navjot Sidhu

More News From national

Next Stories
image

Auto Expo Amritsar 2019
Auto Expo Amritsar 2019
free stats