image

अमृतसर: दहेज के दानव ने एक और अबला की जान ले ली है। थाना मजीठा के गांव भगवां में रहने वाले हवलदार सुखजिंदर सिंह की पत्नी हरमनदीप कौर की मौत हुई है। यह मौत जहरीला पदार्थ (सल्फास) निगलने से हुई है। मृतका के पिता गुरदीप सिंह का आरोप है कि उनकी बेटी को दहेज के लिए परेशान किया जाता था। इसी कारण उनकी बेटी की जहर देकर हत्या की गई है। 

सुखजिंदर सिंह एसएसपी अमृतसर देहाती के कार्यालय में नायब रीडर है। केस दर्ज होने के बाद उसे सस्पैंड कर दिया गया है। गुरदीप सिंह निवासी गोंसपुरा समीप कादियां वाली चुंगी बटाला ने थाना मजीठा पुलिस को बताया कि उनकी बेटी की शादी तीन साल पहले सुखजिंदर सिंह निवासी गांव भगवां के साथ हुई थी। शादी में उन्होंने अपनी हैसियत से अधिक खर्च किया और दहेज दिया। इसके बावजूद शादी के बाद उनकी बेटी को दहेज के लिए तंग परेशान किया जाने लगा। उनकी बेटी ने एक साल पहले बेटी को जसनूर को जन्म दिया। इसके बाद उनके दामाद और बेटी के ससुरालियो द्वारा दहेज में कार की मांग की जाने लगी। कार की मांग पूरी न होने पर उनकी बेटी को जबरन जहर दिया गया और बाद में एक्सकार्ट अस्पताल में दाखिल करवा दिया गया। जहां पर उनकी बेटी की मौत हो गई। थाना मजीठा पुलिस ने पति सुखजिंदर सिंह, सास दलबीर कौर और ननद राजिंदर कौर के खिलाफ दहेज के लिए हत्या का केस दर्ज कर लिया है।

DainikSavera APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS

Web Title: crime in amritsar

More News From punjab

Next Stories

image
free stats