image

भिवानी: प्रदेश में गौकशी पर सख्त कानून बनाए जाने के बावजूद भी गौ तस्करों के हौसले बुलंद हैं। ताजा मामला रविवार देर रात का है। तोशाम क्षेत्र के गांव ढाणीमाहू की गौशाला में करीबन दर्जन भर हथियारबंद गौ तस्कर ट्रक में सवार होकर आए और वहां मौजूद कर्मचारियों को बंधक बना लिया। गौशाला कर्मचारियों को बंधक बनाने के बाद गौ तस्करों ने गौशाला में मौजूद करीबन आधा दर्जन गायों को ट्रक में लाद लिया और फिर हथियार लहराते हुए वहां से फरार हो गए। बंधक कर्मचारियों ने शोर मचाया तो आसपास के ग्रामीण गौशाला में पहुंचे और उन्हें मुक्त कराया। 

 


सोमवार सुबह ढाणीमाहू की गौशाला में हुई गौ तस्करी की इस वारदात को लेकर पंचायत बैठाई गई। पंचायत में मौजूद ग्रामीणों ने भी इस घटना की कड़े शब्दों में निंदा की और फिर गौ तस्करों के खिलाफ कार्रवाई की मांग को लेकर ग्रामीण उपायुक्त से मिलने लघु सचिवालय परिसर में पहुंचे। ग्रामीणों ने बताया कि करीबन तीन साल पहले ठीक इसी तरह गांव निमड़ीवाली की गौशाला से भी गौ तस्करों ने इसी तरह हथियार के बल पर गायों को उठा लिया था। अब तक प्रदेश भर में करीबन आधा दर्जन से अधिक इसी तरह की वारदातें हो चुकी हैं, लेकिन इसके बावजूद भी गौ तस्करों पर प्रदेश सरकार कोई अंकुश नहीं लगा पा रही है। वहीं तोशाम पुलिस थाना प्रभारी ने बताया कि गौशाला में दो कर्मचारी वहां करीबन साढ़े तीन सौ गायों की रखवाली के लिए रात को तैनात थे। सर्दियों की रात होने के कारण उन्हें तस्करों ने सौते हुए दबोच लिया और फिर बंधक बनाने के बाद करीबन पांच से छह गायों को ट्रक में भरकर ले गए। कर्मचारियों की शिकायत पर तोशाम पुलिस ने अज्ञात गौ तस्करों के खिलाफ विभिन्न धाराओं के तहत केस दर्ज कर जांच आरंभ कर दी है। 

DainikSavera APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS

Web Title: cowshed cow smugglers assault

More News From haryana

IPL 2019 News Update
free stats