image

नई दिल्ली: सरकार ने आज कहा कि विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) की नई रिपोर्ट के अनुसार, स्वच्छ भारत अभियान चलाने के बाद से भारत में छोटे बच्चों की मृत्यु के मामलों में भारी कमी आयी है तथा अगले साल तक एक लाख 22 हजार बच्चों की मौत को टाला जा सकेगा। केंद्रीय ग्रामीण विकास मंत्री नरेन्द्र सिंह तोमर ने लोकसभा में प्रश्नकाल में पेयजल एवं स्वच्छता विभाग के सवालों का जवाब देते हुए कहा कि विश्व स्वास्थ्य संगठन की रिपोर्ट के अनुसार 2014 से 2017-18 तक बच्चों की मृत्यु के आंकड़े में 75 हजार की कमी आयी है और रिपोर्ट में अनुमान व्यक्त किया गया है कि 2019 तक यह आंकड़ा एक लाख 22 हजार होगा।

तोमर ने कहा कि सरकार इस बात के लिए प्रयत्नशील है कि लोग शौचालय बनवाने के साथ उसका उपयोग भी करें। इस समय 93 प्रतिशत शौचालयों का उपयोग किया जा रहा है जबकि सात प्रतिशत के उपयोग के लिए लोगों को प्रोत्साहित करने का काम जारी है। उन्होंने बताया कि इस समय 19 राज्य, 418 जिले, 4018 ब्लॉक तथा चार लाख 125 गांव खुले में शौच से मुक्त हो चुके हैं। राज्यों को उनके यहां शेष गांवों को खुले में शौच से मुक्त करने में पूरी मदद दी जा रही है। इसके बजट की काफी राशि अभी अप्रयुक्त है। उन्होंने कहा कि स्वच्छता को लेकर संचार एवं मीडिया के हर माध्यम की मदद से जागरुकता अभियान चलाया जा रहा है।

DainikSavera APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS

Web Title: Cleanliness campaign will save lives of 1.2 million children

More News From delhi

Next Stories
image

Auto Expo Amritsar 2019
Auto Expo Amritsar 2019
free stats