image

गोहाना, 4 जनवरी (राजेन्द्र कुमार): बीपीएस राजकीय महिला मैडीकल कालेज में कश्मीर की छात्र से उत्पीड़न के मामले में आरोपी कम्यूनिटी मैडिसन विभाग के अध्यक्ष डा. जेपी माजरा को पद से हटा दिया गया है। कालेज के निदेशक ने इस संबंध में आदेश जारी किए हैं। डा. माजरा की जगह अब फॉर्माकॉलीजी विभाग के अध्यक्ष डा. पीके वर्मा कम्यूनिटी मैडिसन विभाग के अध्यक्ष होंगे। कालेज प्रशासन ने यह निर्णय हरियाणा राज्य महिला आयोग की सख्ती के बाद लिया है। महिला मैडीकल कालेज में कश्मीर की एक छात्र एमबीबीएस की पढ़ाई कर रही है।

 

छात्र के भाई ने बीतों दिनों हैल्थ एंड साइंस यूनिवर्सिटी रोहतक के कुलपति को पत्र भेज कर महिला कालेज के कम्यूनिटी मैडिसन विभाग के अध्यक्ष डा. जेपी माजरा पर उसकी बहन का उत्पीड़न करने का आरोप लगाया था। विभागाध्यक्ष पर छात्र की कम हाजिरी दिखा कर उसे परेशान करने का आरोप है। फिलहाल इस मामले में हरियाणा राज्य महिला आयोग की टीम जांच कर रही है। आयोग की टीम ने जब छात्र उत्पीडऩ के मामले की जांच शुरू की तो पांच और महिलाएं (जिनमें चिकित्सक भी हैं) सामने आईं और डा. माजरा पर उत्पीड़न व अश्लील कमैंट करने के आरोप लगाए। आयोग की चेयरपर्सन प्रतिभा सुमन ने मामले को गंभीर बताया और दो बार स्वयं टीम के साथ कालेज पहुंच कर जांच की। पीड़ित व अन्य छात्रओं से बातचीत की गई। आयोग टीम मंगलवार को कालेज आई थी। आयोग चेयरपर्सन ने तो यहां तक कह दिया था कि डा. माजरा ऐसे व्यक्ति को ऐसे शिक्षण संस्थान में नौकरी करने का हक नहीं दिया जाना जाए। आयोग के सख्त रवैये को देखते हुए महिला मैडीकल कालेज के निदेशक ने आरोपी डा. माजरा को पद से हटा कर उनकी जगह फॉर्माकॉलीजी विभाग के अध्यक्ष डा. पीके वर्मा कम्यूनिटी मैडिसन विभाग को जिम्मेदारी सौंप दी है। निदेशक ने जो पत्र जारी किया है उसमें डा. माजरा को पद से हटाने के कारण नहीं लिखे गए हैं। पत्र में इतना लिखा गया है कि डॉ. पीके वर्मा कम्यूनिटी मैडिसन विभाग के अध्यक्ष होंगे।

DainikSavera APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS

Web Title: chancellor of community medicine department removed from office

IPL 2019 News Update
free stats