image

नई दिल्ली : जांच के लिए सौंपे जाने वाले मामलों की बढ़ती संख्या के मद्देनजर सी.बी.आई. ने अपनी जांच और अभियोजन कार्य को मजबूत बनाने के लिए 2017 में 638 अधिकारियों को संगठन में शामिल किया। एक अधिकारी ने आज यहां बताया कि एजैंसी ने राज्य पुलिस बल, सलाहकारों, बैंक अधिकारियों, रेलवे अधिकारियों और पैरवी कार्यालयों से विभिन्न रैंक में 537 अधिकारियों को शामिल किया है जबकि लोक अभियोजकों, पुलिस उपाधीक्षकों, उपनिरीक्षक आदि पदों पर 101 अधिकारियों की भर्ती की है। सी.बी.आई. व्यापमं घोटाले, मनरेगा, कोयला, चिटफंड घोटाला जैसे कई मामलों की जांच कर रही है।

ये मामले व्यापक क्षेत्रों में फैले हुए हैं और इसमें अनेक प्राथमिकियां, अभियोजन कार्यवाही और बडी संख्या में आरोपी शामिल हैं।सूत्रों ने बताया कि एक कमजोर कड़ी जांच में शामिल हजारों लोगों के कठोर परिश्रम पर पानी फेर सकती है। यह एजैंसी के लिए पर्याप्त लोगों की जरुरत को जरुरी बनाता है।एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा, एजैंसी में इतनी बड़ी संख्या में अधिकारियों को शामिल करने और भर्ती किए जाने से सी.बी.आई. की जांच और अभियोजन को मजबूत बनाने के प्रयासों को प्रोत्साहन मिलेगा। 

लंबित पदोन्नतियों का रास्ता साफ करने के लिए एजैंसी ने 2017 में 11 विभागीय पदोन्नति समितियों के जरिए कैंटीन कर्मचारी से लेकर पुलिस अधीक्षक रैंक के 96 अधिकारियों को पदोन्नति मिली है। इसके अतिरिक्त 2 डी.पी.सी. का आयोजन किया गया जिसके जरिए 57 अधिकारियों को कन्फर्मेशन का लाभ मिला।

DainikSavera APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS

Web Title: cbi in 2017 638 officers included in

More News From haryana

Next Stories
image

IPL 2019 News Update
free stats