image

अमृतसर: फोर.एस. स्कूल में घुसकर अमृधारी छात्र को पीटने और घायल करने के मामले में मुख्य आरोपी गुरसिमरन सिंह केस दर्ज होने के बाद भी अपनी हरकतों से बाज नहीं आ रहा है। वह अभी तक पुलिस की पकड़ से दूर है। अपनी फेसबुक पर फिर से पुलिस द्वारा दर्ज किए गए केस का स्टेटस डाला है। फेसबुक पर हथियारों के साथ फोटो भी अपलोड की हैं। घायल अकाशदीप के पिता गुरप्रीत सिंह और परिजनों का आरोप है कि पुलिस द्वारा मुख्य आरोपी को गिरफ्तार करने के लिए कोई कार्रवाई नहीं की जा रही। साथ ही यह भी सामने आया है कि स्कूल में हुई गंडागर्दी के मामले में एक पुलिस कर्मी का बेटा भी शामिल है।

 


न्यू गोल्डन एवेन्यू निवासी गुरप्रीत सिंह ने बताया है कि वह कपड़े का कारोबार करते हैं। उनका बेटा आकाशदीप सिंह संत सिंह सुक्खा सिंह पब्लिक स्कूल फोर.एस. चौक में प्लस टू का छात्र है। सोमवार को उनका बेटा स्कूल में पढ़ने के लिए गया। दोपहर बाहर से कुछ लड़के स्कूल में दाखिल हुए। बाहर से आए लड़कों ने उनके अमृतधारी बेटे अकाशदीप को पकड़ लिया और पीटते हुए स्कूल से बाहर ले गए। उनके बेटे की दस्तार उतार दी और बालों से पकड़कर घसीटा। लकड़ी से इतने वार किए कि उनके बेटे की एक बाजू टूट गई। कपड़े में बांधे गए नारियल से उनके बेटे के सिर पर कई वार किए, जिस कारण सिर पर भी गहरी चोटें आई। पूरी वारदात स्कूल के अंदर और बाहर लगे सी.सी.टी.वी. कैमरों में कैद हुई है। स्कूल के ही कुछ छात्रों ने बताया है कि हमलावरों की अगुवाई स्कूल से ही निकाला गया छात्र गुरसिमरन कर रहा था। पुलिस द्वारा गुरसिमरन समेत चार छात्रों के खिलाफ केस दर्ज किया। 2 गिरफ्तार जेल भेज दिया। परिजनों का कहना है कि पुलिस के तेवर नर्म पड़ गए हैं। पुलिस केस को ठंडे बस्ते में डालने की तैयारी में हैं। मुख्य आरोपी को पकड़ने के लिए कोई भी कार्रवाई नहीं की जा रही है। दूसरी तरफ एस.एच.ओ. मजीठा रोड अवतार सिंह का कहना है कि पुलिस द्वारा गुरसिमरन के घर में छापामारी की गई है। गुरसिमरन का पिता बीमार होने के कारण आई.सी.यू. में है। घर में केवल वृद्ध नानी है। पुलिस इस केस के प्रति गंभीर है और किसी को भी बख्शा नहीं जाएगा।
 

DainikSavera APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS

Web Title: case of attack in school challenges doing on facetoface facebook

More News From amritsar

IPL 2019 News Update
free stats