image

कोलकाताः भाजपा के राष्ट्रीय महासचिव कैलाश विजयवर्गीय ने कहा है कि उनकी पार्टी फिलहाल अयोध्या में विवादित स्थल पर राम मंदिर निर्माण के लिए अध्यादेश लाने के बारे में विचार नहीं कर रही है। विजयवर्गीय ने हालांकि कहा कि भाजपा ही अयोध्या में राम मंदिर का निर्माण कर सकती है क्योंकि किसी और में ऐसा करने का दम नहीं है।

उनके मुताबिक, मंदिर के मुद्दे ने भाजपा को फायदे से ज्यादा नुकसान पहुंचाया है क्योंकि विपक्ष इस मसले का इस्तेमाल अल्पसंख्यकों को डराने और वोटों के ध्रुवीकरण के लिए कर रहा है। उन्होंने कहा, हम अदालत से एक बार फिर इस मसले पर फैसला सुनाने की अपील करेंगे। जब तक मामला अदालत में है, हमें जल्दबाजी न करते हुए उसे फैसले के लिए उचित समय देना चाहिए।

अगर अब भी नहीं बना राम मंदिर तो भाजपा से उठ जायेगा लोगों का भरोसाः रामदेव

विजयवर्गीय ने पीटीआई-भाषा को बताया, अगर लोगों की आकांक्षाएं बढ़ती रहीं, तो सरकार को इस पर अध्यादेश लाने या न लाने परी फैसला लेना होगा। लेकिन फिलहाल हम ऐसा नहीं सोच रहे हैं। विश्व हिंदू परिषद, राष्ट्रीय स्वंयसेवक संघ और शिवसेना की ओर से अध्यादेश लाने की बढ़ती मांग पर विजयवर्गीय ने फिर दोहराया कि उन्हें जल्द फैसले की अपील लेकर अदालत के पास जाना चाहिए।

विजयवर्गीय ने विपक्ष के इन आरोप को खारिज किया कि भाजपा चुनावों से पहले राम मंदिर मुद्दे का राजनीतिक लाभ उठाने की कोशिश में जुटी है। उन्होंने कहा, इस मुद्दे को भाजपा ने नहीं बल्कि संतों और दूसरे संगठनों ने उठाया है। पार्टी कभी राम मंदिर मुद्दे को लेकर चुनावों में नहीं उतरी। हमारा एजेंडा हमेशा सबका साथ सबका विकासे रहा है।

DainikSavera APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS

Web Title: BJP's big statement on Ram temple, no idea about bringing ordinance in this matter

More News From national

Next Stories
image

Auto Expo Amritsar 2019
Auto Expo Amritsar 2019
free stats