image

आजकल लोग खुद को फिट रखने के लिए न जाने कौन-कौन से नुस्खे अपना रही है। खासतौर पर जिम में वर्कआउट करने का जुनून तो मानो उनके सिर चढ़ गया है, लेकिन ये युवा जिम में वर्कआउट के साइडइफेक्ट से शायद वाकिफ नहीं हैं। क्या आप जानते हैं कि लगातार जिम के बाद अचानक बीच में छोड़ने से आप घातक बीमारियों की चपेट में आ सकते हैं?

कमजोर मासपेशियां : नियमित रूप से व्यायाम करने वाले व्यक्ति अगर अचानक बीच में जिम करना छोड़ दें तो एक से चार सप्ताह के बीच में आपका शरीर सुस्त पड़ने लगेगा और मांसपेशियां सिकुड़ने लगेंगी, जो कि अस्वस्थ व्यक्ति की निशानी है।

वजन में बढ़ोतरी : जिम करना बीच में ही छोड़ देने से शरीर का वजन बढ़ने लगता है। वर्कआउट करने से शरीर का मेटाबॉलिज्म बढ़ता है और कैलोरी बर्न होती है लेकिन जब जिम छोड़ देते हैं तो वजन बढ़ने लगता है।

बहुत कम लोगों को यह बात मालूम है कि जिम छोड़ने के एक सप्ताह के अंतर्गत हमारे शरीर में वीओ2 मैक्स की क्षमता में करीब 5 प्रतिशत तक कमी आ जाती है। इसका मतलब है, मांसपेशियों को विकास के लिए पर्याप्त मात्रा में ऑक्सीजन नहीं मिल पा रही है। रनिंग ट्रैक पर जो दूरी आप पहले ठीक 20 मिनट में पूरी कर पा रहे थे, जिम छोड़ने के एक सप्ताह बाद उसे पूरा करने में आप 10 सेकंड ज्यादा समय लेंगे।

दिल की बीमारियां : अचानक जिम छोड़ देने से दिल से जुड़ी बीमारियों से लोग घिर सकते हैं। दिल से जुड़ी बीमारियां अगर लम्बी चलती है तो जान को भी खतरा पहुंच सकता है।

वहीं,जिम छोड़ने पर वीओ2 मैक्स 12 प्रतिशत तक घट सकता है। इससे मांसपेशियों के ऊतक प्रभावित होंगे और मांसपेशियां तेजी से कमजोर होने लगेंगी। मांसपेशियों के कमजोर होने के साथ-साथ फैट सेल्स भी बढ़ने लगेंगे। कार्डियो पर जो दूरी तय करने में आपको 20 मिनट लगते थे, उसमें अब पूरे 60 सेकेंड का इजाफा हो जाएगा।

DainikSavera APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS

Web Title: Before leaving the gym in the middle, know its loss

More News From eknazar

Next Stories
image

IPL 2019 News Update
free stats