image

नई दिल्लीः लाभ के पद मामले में अपने 20 विधायकों की सदस्यता खत्म हो जाने से खफा आम आदमी पार्टी ने इसे लेकर राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद पर तंज कसते हुए कहा है कि वह इस बारे में चुनाव अयोग की ओर से की गयी सिफारिशों को लौटाने का साहस दिखाएं। पार्टी के प्रवक्ता आशुतोष ने आज ट्वीट करते हुए कहा‘उम्मीद करते हैं कि महामहिम को यह ज्ञात होगा कि पूर्व राष्ट्रपति के आर नारायणन ने संविधान के संरक्षक के तौर पर अहम भूमिका निभाते हुए केंद्रीय मंत्रिमंडल की सिफारिशों को एक बार नहीं दो बार लौटाया था। 

उन्होंने एक ‘रबर की मुहर’ की तरह नहीं बल्कि अपने अधिकारों का पूरा इस्तेमाल करने वाले एक महान राष्ट्रपति की तरह काम किया था। लाभ के पद मामले में चुनाव आयोग की सिफारिशों के आधार पर विधानसभा की सदस्यता के अयोग्य ठहराए गए आप के 20 विधायकों में दिल्ली के परिवहन मंत्री कैलाश गहलोत और चांदनी चौक से पार्टी की विधायक रही अल्का लांबा भी शामिल हैं। चुनाव अयोग ने आप के 20 विधायकों की सदस्यस्ता खत्म करने संबंधी सिफारिश शुक्रवार को राष्ट्रपति के पास मंजूरी के लिए भेजी थी जिसे रविवार को स्वीकार कर लिया गया। 
 

DainikSavera APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS

Web Title: aap gives this challenge to the president

More News From delhi

Next Stories
image

Auto Expo Amritsar 2019
Auto Expo Amritsar 2019
free stats