image

जालंधर: दैनिक सवेरा की ओर से शुरू की फर्जी ट्रैवल एजैंटों के खिलाफ मुहिम में पुलिस प्रशासन ने सरगर्मी दिखानी शुरू कर दी है। थाना लांबड़ा की पुलिस ने ऐसे ही एक गिरोह को बेनकाब किया है जिसके किस्से ‘दैनिक सवेरा’ में काफी समय से प्रशासन समक्ष रखे जा रहे हैं। इस गिरोह की पुलिस ने फिलहाल एक महिला सदस्य को गिरफ्तार किया है। गिरोह के खिलाफ पहले भी केस दर्ज हैं जबकि फरार गिरोह के सदस्यों की तलाश में पुलिस ने छापामारी तेज कर दी है। एस.एस.पी. गुरप्रीत सिंह भुल्लर ने बताया कि लेख राज पुत्र फुरमाया राम निवासी लांबड़ा ने शिकायत दी थी कि उसने अपने बेटे इंदरजीत को साइप्रस भेजने के लिए मोनिका पत्नी जसपाल, जसपाल पुत्र धर्मपाल निवासी माणको आदमपुर, वीना पत्नी अमरनाथ, रूबी पत्नी दिलमोहन निवासी नकोदर हाल निवासी जंगराल, विक्की निवासी चंदनपुर, देस राज पुत्र जागर राम निवासी जंगराल के खिलाफ ठगी की शिकायत दी थी। शिकायत में लेख राज ने कहा था कि उसने सबसे पहले वीना से संपर्क किया था। वीना ने लेख राज को कहा था कि उसकी बेटी मोनिका जिस एजैंट के जरिए साइप्रस गई थी उसी से संपर्क करके उसके बेटे को भी वहां भेज देगी। वीना ने एजैंटी का काम करती रूबी से बात की तो रूबी ने लेख राज को भरोसा दिया कि उसके बेटे इंदरजीत को साइप्रस भेज कर वहां पक्का करवा दिया जाएगा। इसके लिए रूबी ने लेख राज से 8.5 लाख रुपए मांगे।

8 लाख में डील पक्की होने के बाद लेख राज ने साइप्रस वीना की बेटी मोनिका से बात की तो उसका कहना था कि वह रूबी के साथ रहती है और  रूबी व जसपाल दोनों मिल कर एजैंटी का काम करते हैं। लेख राज को विश्वास दिलाने के लिए कहा गया कि रूबी व जसपाल ने उनके और भी जानकारों को विदेश में भेजा हुआ है। इन लोगों ने लेख राज से इंदरजीत का पासपोर्ट व 2 लाख रुपए एडवांस में मांगे। 2 लाख रुपए लेने के बाद मोनिका ने इंदरजीत का मैडीकल व पी.सी.सी. करवाने के साथ फिर से दो लाख रुपए मंगवा लिए। कुछ समय बाद मोनिका ने लेख राज को फोन करके बताया कि रूबी व जसपाल भारत आए हुए हैं और जब वह उनके घर आएं तो उन्हें बाकी के दस्तावेज व एक लाख रुपए और दे दें। रूबी व जसपाल को दस्तावेज व पैसे देने के बाद मोनिका ने फोन कर बताया कि इंदरजीत का वीजा लग चुका है व बाकी बचे तीन लाख का भी प्रबंध कर लें। इसके बाद रूबी, वीना, जस्सी, विक्की सभी लेख राज के घर पहुंच गए। उन्होंने लेख राज को इंदरजीत का पासपोर्ट व वीजा देकर बाकी के तीन लाख रुपए भी ले लिए व जल्द ही टिकट देने का भी भरोसा दिया। लेख राज ने कहा कि जब उन्होंने वीजा चैक करवाया तो वह जाली निकला। लेख राज ने रूबी से बात की तो उसने पैसे वापस देने के लिए अपने घर बुला लिया। जैसे ही लेख राज रूबी के घर गया तो रूबी ने दूसरे कमरे में जाकर अपने कपड़े फाड़ लिए व बाद में उस पर पर्चा दर्ज करवाने की धमकी देने लगी। शोर सुन कर रूबी के घर के बाहर पड़ोसी भी इकट्ठे हो गए। रूबी के पिता को जब सारी बात पता लगी तो रूबी ने वहीं लेख राज से माफी भी मांग ली। बाद में पैसे मांगने पर भी रूबी टाल-मटोल करने लगी लेकिन कुछ समय बाद लेख राज को पता लगा कि रूबी ने अपना नाम बदल कर रानी रख लिया है व अब भी वह ट्रैवल एजैंटी का काम करके लोगों को ठग रही है। जांच के बाद पुलिस ने वीना, मोेनिका, जसपाल व रूबी के खिलाफ केस दर्ज करके मंगलवार को वीना की गिरफ्तारी दिखा दी है। थाना लांबड़ा के प्रभारी पुष्प बाली ने कहा कि जल्द ही फरार आरोपियों की भी गिरफ्तारी हो जाएगी। 
 

DainikSavera APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS

Web Title: 4member gang of fake travel agents expose woman arrested

More News From jalandhar

Next Stories
image

Auto Expo Amritsar 2019
Auto Expo Amritsar 2019
free stats