image

122 एम.एम. मोर्टार ने तबाह किया घर

जम्मू/मेंढर,  सुबह अभी सूर्योदय हुआ भी नहीं था कि साफ और नीले आसमान पर एकाएक बिजली चौंधने लगी। बालाकोट के देवता में पहाड़ी इलाका होने के कारण दूर-दूर बसे घरों में अभी जाग होने को ही थी कि पेशे से सेना का पोर्टर मुहम्मद रमजान का लगभग सारा परिवार दुश्मन देश की निहत्थों पर हुई गोलाबारी में सदा के लिए सो गया। 

मौके पर पहुंची दैनिक सवेरा की टीम को रमजान के कच्चे मकान में चूल्हे पर चढ़ी चाय तो नजर आई पर उसे पीने के लिए कोई जिंदा नहीं था। रसोई में मल्लिका बी अभी चाय बना ही रही थी कि मोर्टार का एक गोला सीधे उनके बरामदे की छत के ठीक बीचो-बीच आ गिरा। मौके पर ही माता-पिता के साथ घर के तीनों बेटे रहमान(19) रिजवान (18) और रज्जक (8) खत्म हो गए। रमजान की दो बेटियां सिर्फ इसलिए बच गई, क्योंकि वे पूरी तरह से फैंके गए मोर्टार की चपेट में नहीं आई थी। जिस वक्त यह हादसा पेश आया उस समय मुहम्मद रमजान घर से खाना पैक करवा अपनी पोर्टर की नौकरी पर जाने वाला ही था जबकि दोनों बच्चियां बरामदे के ठीक दूसरे कोने में बैठ खाना खा रही थी। 122 एम.एम. का मोर्टार जो रमजान के दो कमरों के कच्चे घर पर गिरा था ने पूरे घर को ही तहस-नहस कर दिया और एक कमरे में बंधी भैंस भी बुरी तरह से घायल हो गई। इस दौरान चौदह साला नूरेन अख्तर और सात बरस की मरियन अख्तर को इस भयावह हादसे के बाद यह भी पता नहीं कि अब उनके घर में और कोई बाकी नहीं बचा।

 न भाई रहे ना मां-बाप। पूरी तरह से ध्वस्त हुए घर पर गांव वालों ने ही एक नीले रंग की तिरपाल डाल दी जिसके नीचे पड़ी लाशों पर हर कोई आंसू बहा रहा था लेकिन बदकिस्मत रमजान के परिवार में ऐसा कोई भी नहीं था जो अपनों की मौत पर रो सके। इस हादसे के बाद का मंजर देख पाना भी आंखों के बस की बात प्रतीत नहीं हो रही थी। थोड़ी ही देर में गांव के लोग एकत्रित हुए और सबसे पहले गांव के ही कुछ युवकों ने दो मोटरसाइकिलों पर रमजान की घायल बेटियों को दारग्लून पी.एच.सी. में पहुंचाया जिसके बाद एम्बूलैंस के जरिए उन्हें राजाैरी ले जाया गया। इस हादसे के तुंरत बाद मौके पर सेना के जवान फस्र्ट एड लेकर घटनास्थल पर भी पहुंचे लेकिन आक्रोषित लोगों ने सैन्य जवानों की मौजूदगी में नारेबाजी भी की। परंतु यह भी सच है कि सेना के ही जवानों ने राजाैरी से रमजान की दोनो गंभीर रूप से घायल बेटियों को जम्मू मैडीकल कालेज पहुंचाया। 

DainikSavera APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS

Web Title: 122 mm mortar destroyed house

More News From jammu-kashmir

IPL 2019 News Update
free stats