image

चंडीगढ़: हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल के नेतृत्व में उच्चस्तरीय शिष्टमंडल ने लंदन में आयोजित विभिन्न बैठकों में विभिन्न क्षेत्रों में निवेश की व्यापक संभावनाओं और अवसरों को दर्शाते हुए हरियाणा में निवेश करने के लिए निवेशकों को आकर्षित किया।

मुख्यमंत्री ने निवेशकों के लिए हरियाणा में न केवल व्यापक अवसरों के द्वार खोलें हैं बल्कि इंटरैक्टिव सत्रों में निवेशकों की सभी शंकाओं को भी दूर किया है। इस अवसर पर हरियाणा राज्य औद्योगिक अवसंरचना विकास निगम द्वारा प्रस्तुति दी गई और सम्भावित निवेशकों के सवालों के जवाब दिये। इस समय शिष्टमंडल हरियाणा में निवेश लाने के लिए इंंगलैंड के दौरे पर है।

इंडो-यूरोपीयन बिजनेस फोरम की बैठक में 100 से अधिक प्रतिभागियों ने भाग लिया। इनमें लॉर्ड करण बिलिमोरिया और लॉर्ड राज लूम्बा सहित अधिकांशत संभावित निवेशक शामिल थे। इंटरैक्टिव सत्र में एचएसआईआईडीसी के प्रबन्ध निदेशक, टी.एल. सत्यप्रकाश ने हरियाणा के विभिन्न क्षेत्रों में उपलब्ध निवेश अवसरों पर विस्तृत प्रस्तुति दी। मुख्यमंत्री ने प्रदेश की क्षमता को दर्शाया और निवेशकों को हरियाणा में आकर निवेश करने के लिए प्रोत्साहित किया। 

इंटरैक्टिव सत्र में उन्होंने ईज आफ डूर्इंग बिजनेस, स्टार्ट-अपस, एसएमईज और विमानन हब इत्यादि की हरियाणा की परियोजनाओं के सम्बंध में पूछे गए सवालों के जबाव दिए। शिष्टमंडल ने लंदन में परिवहन प्रणाली पर भी एक बैठक की, जहां एक व्यापक परिवहन प्रणाली लागू करने के संबंध में एक कन्सेप्चूअल प्रैजेन्टेशन दी गई और लंदन परिवहन प्रणाली के आधार पर विचार-विमर्श किया गया। बैठक में गुरुग्राम जैसे बढ़ते शहर के लिए एक सफल सिटी ट्रांसपोर्ट सिस्टम लागू करने की व्यापक अवधारणा प्रदान की गई।  

शिष्टमंडल ने एसएमईज के वरिष्ठ प्रतिनिधियों से भी मुलाकात की, जिनका यूकेआईबीसी के एक्सेस इंडिया प्रोग्राम के तहत चयन किया गया। बातचीत के दौरान बिग डाटा टैक्नोलोजी, ऊर्जा दक्षता, 3डी प्रिंटिंग, एग्रो/फूड प्रोसैसिंग, पर्यटन इत्यादि सहित विभिन्न क्षेत्रों में पेश किये गए हरियाणा के अवसरों पर विचार-विमर्श किया गया।

DainikSavera APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS

Web Title:

Next Stories
image

free stats