image

जालन्धर: संविधान निर्माता डा. भीम राव अम्बेदकर की जयंती पर 14 अप्रैल को फगवाड़ा में हुए गोलीकांड के विरोध में दलित समाज द्वारा धरना प्रदर्शन किए जाने के बाद महानगर में बुधवार को दहशत भरी शांति रही। वहीं कमिश्नरेट पुलिस तथा अर्धसैनिक बलों के हाथों में महानगर की सुरक्षा पूरी तरह से दुरुस्त है। यह दावा जालंधर के पुलिस कमिश्नर प्रवीण कुमार सिन्हा का है। वहीं तनाव के चलते किसी भी अप्रिय घटना से निपटने के लिए आज भी शहर के बाजारों में पैरामिल्ट्री और पंजाब पुलिस तैनात रही। सुरक्षाबलों की टुकड़ियों ने डी.सी.पी. गुरमीत सिंह के नेतृत्व में संवेदनशील इलाकों में फ्लैग मार्च भी किया। 
फगवाड़ा में 2 गुटों में हुए हिंसक टकराव में गोली लगने से 3 युवक गंभीर घायल हो गए थे। उधर, मंगलवार को जालन्धर की घटनाओं के बाद शिव सैनिकों की शिकायत पर ध्वज फूंकने वाले कुछ ज्ञात-अज्ञात व्यक्तियों पर मामला दर्ज किए जाने के बाद भी सुगबुगाहट हो रही है। फगवाड़ा और जालन्धर की घटनाओं में दलित समाज के लोगों पर दर्ज किए गए मामले रद्द किए जाने की मांग बसपा सहित अकाली दल के अनुसूचित जाति विंग ने भी की है। इन घटनाओं को लेकर जालन्धर में आज गुप्त स्थान पर बैठक की गई है, जिसमें 19 अप्रैल से नया संघर्ष छेड़े जाने की तैयारी पर चर्चा की गई है। 
सी.पी. सिन्हा ने लोगों से शांति बनाएं रखने की अपील की है। सिन्हा ने कहा कि पंजाब का माहौल किसी भी कीमत पर खराब नहीं होने दिया जाएगा। सी.पी. ने पुलिस अधिकारियों से कहा है कि लोगों के साथ बेहतर तालमेल रखें ताकि समय रहते ही किसी भी तरह की अप्रिय घटना से निपटा जाए। उन्होंने कहा कि फगवाड़ा में 2 समुदायों के बीच हुए टकराव के बाद शरारती लोग माहौल खराब करने की कोशिश में हैं। ऐसे लोगों को बिल्कुल बर्दाश्त नहीं किया जाएगा और किसी भी कीमत पर मौकाप्रस्त लोगों को गड़बड़ी फैलाने नहीं दी जाएगी। पुलिस ने सुरक्षा के कड़े इंतजाम किए हैं। 
सी.पी. ने कहा कि फगवाड़ा के साथ-साथ जालंधर देहात व जालंधर सिटी में एहतियात के तौर पर भारी पुलिस बल के साथ-साथ सेना के जवान तैनात किए गए हैं। सी.पी. ने कहा कि किसी भी प्रकार की गड़बड़ी से निपटने के लिए अर्धसैनिक बलों की 8 कंपनियों में 2 कंपनियां दंगा रोकू पुलिस, 2 कंपनिया रैपिड एक्शन फोर्स और 4 कंपनियां सीमा सुरक्षा बल की पहुंच चुकी हैं। इसके अलावा बी.एस.एफ. के 450, जिला पुलिस के 1500 तथा जहानखेलां से 500 पुलिस जवान शहर में तैनात किए गए हैं। इसके अलावा पंजाब पुलिस के 500 जवानों को एहतियात के तौर पर रिजर्व रखा गया है। 

DainikSavera APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS

Web Title: chance disturbances spread sinha jalandhar news

More News From jalandhar

Next Stories
image

Auto Expo Amritsar 2019
Auto Expo Amritsar 2019
free stats