image

पालघरः महाराष्ट्र में पालघर की एक अदालत ने साल 2017 में एक महिला की हत्या करने के जुर्म में 37 वर्षीय व्यक्ति और उसके दोस्त को उम्रकैद की सजा सुनाई। अतिरिक्त सत्र न्यायाधीश ए. यू. कदम ने मंगलवार को अपने आदेश में वसई निवासी मनोज चह्वाण और उसके दोस्त बाबूराव येसंकर को भारतीय दंड संहिता की धारा 302 हत्या के तहत दोषी ठहराया और उन पर एक-एक हजार रुपये का जुर्माना भी लगाया।

Read More  अद्भुतः 10 घंटे तक चली सर्जरी से डॉक्टरों ने जोड़े दोनों कटे हुए पैर

अतिरिक्त लोक अभियोजक जयप्रकाश पाटिल ने अदालत को बताया कि चह्वाण पीड़िता अनिता वानखड़े 32 के साथ लिव-इन संबंध में था जो घरेलू सहायिका का काम करती थी। येसंकर भी उनके साथ रहता था और वानखड़े उसे अपना भाई मानती थी। चह्वाण और महिला के बीच आए दिन झगड़े होते थे क्योंकि वह उसके चरित्र पर शक करता था। अभियोजक ने बताया कि 26 जून 2017 को उनका फिर से झगड़ा हुआ जिसके बाद येसंकर और चह्वाण ने महिला पर केरोसिन डाल दिया और उसे आग लगा दी।

Read More  कुलभूषण मामलें में पाकिस्तान ने खर्च कर दिए करोड़ो रुपए, भारत ने सिर्फ 1 रुपए में लड़ा केस

उसकी चीखें सुनकर पड़ोसी वहां पहुंचे और उसे अस्पताल लेकर गए जहां इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई। पाटिल ने अदालत को बताया कि मरने से पहले दिए गए बयान में महिला ने कहा कि दोनों व्यक्तियों ने उसकी हत्या करने के इरादे से जलाया। न्यायाधीश ने सजा सुनाते हुए कहा कि अभियोजक आरोपियों के खिलाफ इस मामले को साबित करने में सफल रहा।
 

DainikSavera APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS

Web Title: two man killed a woman in Maharashtra

More News From national

Next Stories
image

free stats