image

मुंबईः शिवसेना ने अपने सहयोगी दल भाजपा को विपक्षी दलों के नेताओं को अपनी पार्टी में शामिल करते समय सावधानी बरतने की सलाह दी और कहा कि ऐसा करने से भविष्य में समस्या पैदा हो सकती है। यह बयान महाराष्ट्र कांग्रेस के वरिष्ठ नेता राधाकृष्ण विखे पाटील के बेटे को भाजपा में शामिल किए जाने के बाद आया है। शिवसेना ने विपक्षी दलों पर निशाना साधते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की हालिया ब्लॉग पोस्ट का जिव्र किया जिसमें उन्होंने आरोप लगाया था कि कांग्रेस और भ्रष्टाचार ‘पर्यायवाची’ हैं।

यहां पढ़ें... 2019 लोकसभा चुनाव के लिए तैयार कांग्रेस, जाने 3 राज्यों में किन बड़े चेहरों को दिया टिकट

शिवसेना ने अपने मुखपत्र ‘सामना’ में एक संपादकीय में कहा, ‘कांग्रेस और राकांपा से नेताओं का आना आज लाभकारी लग सकता है लेकिन इससे भविष्य में समस्या पैदा हो सकती है, हमारा अनुभव यही कहता है। लोग आज आ रहे हैं, क्योंकि सत्ता है। जब कुछ नहीं होगा, वे अन्य लोगों से संबंध जोड़ेंगे।’ उसने कहा कि राधाकृष्ण विखे पाटील शिव सेना के सदस्य थे और शिवसेना ने उन्हें एवं उनके पिता को व्रमश: राज्य एवं केंद्र सरकारों में मंत्री बनाया। उसने कहा, ‘लेकिन सरकार के सत्ता से बाहर जाने पर वह हमारे खिलाफ हो गए। 

यहां पढ़ें...भारत की PAK को लताड़- इतने उदार हैं तो मसूद को हमारे हवाले करे इमरान खान

विपक्ष के नेता के तौर पर उन्होंने विपक्षी नेता की तरह व्यवहार नहीं किया। सत्ता में रहने के दौरान भी उन्होंने शिवसेना की तरर्ह कई मामलों परी मजबूत रुख नहीं अपनाया। इसके विपरीत उन्होंने हमारा विरोध किया।’ पार्टी ने कहा कि अब हालात ऐसे हैं कि लोग उनसे नैतिक आधार पर इस्तीफा देने की मांग कर रहे हैं। उसने कहा, ‘ऐसे घराने हैं जिनकी कोई विशेष विचारधारा नहीं है। वे जिस दिशा में हवा चल रही हो, उसी दिशा में मुड़ जाते हैं।’  राधाकृष्ण विखे पाटील के बेटे सुजय विखे पाटील मंगलवार को भाजपा में शामिल हो चुके हैं।

DainikSavera APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS

Web Title: Shiv Sena Advise to BJP, Be careful with opposition leaders who joining party

More News From national

Next Stories

image
free stats