image

मुंबईः यहां छत्रपति शिवाजी महाराज टर्मिनस के बाहर एक फुट ओवर ब्रिज का हिस्सा ढहने के बाद पिछले 12 घंटों में छह लोगों की मौत हो गई और 32 लोग घायल हो गए। पुलिस ने बृहन्मुंबई नगर निगम (बीएमसी) और भारतीय रेलवे के अधिकारियों के खिलाफ गैर-इरादतन हत्या का मामला दर्ज किया है। महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री देवेंद्र फड़नवीस ने मृतकों को परिजनों के लिए पांच-पांच लाख रुपये देने और घायलों को 50-50 हजार रुपये की सहायता देने की घोषणा की है। उन्होंने गुरुवार को हुई इस घटना की उच्चस्तरीय जांच कराने का भी आदेश दिया है। सीएम ने ये भी कहा है कि मामले का आरोपी बख्शा नहीं जाएगा। आरोपी पर सख्त से सख्त कार्रवाई होगी।

यहां पढ़ें...सपा-बसपा का गठबंधन मजबूत, नवरात्रि के पवित्र दिनों में शुरु होगीं रैलियां

रेलवे, वरिष्ठ पुलिस अधिकारी, राष्ट्रीय आपदा प्रतिक्रिया बल (एनडीआरएफ) और बीएमसी की टीमें शुक्रवार को घटनास्थल का मुआयना कर रही हैं। बीएमसी आपदा नियंत्रण ने कहा, ‘पिछले 18 महीनों में शहर में फुटओवर ब्रिज गिरने  गिरने की यह तीसरी घटना है। यह घटना गुरुवार शाम 7.35 पर तब घटी, जब पुल पर जरूरत से ज्यादा लोगों का वजन बढ़ गया।’ अब तक पांच मृतकों की पहचान अपूर्वा प्रभु (35), रंजना तांबे (40), भक्ति शिंदे (40), जाहिद सिराज खान (32) और तपेंद्र सिंह (35) के रूप में हुई है। ट्रैफिक पुलिस के एक अधिकारी ने कहा कि मलबा हटाने के बावजूद डी.एन. मार्ग पर यात्र करने पर प्रतिबंध है।
 

DainikSavera APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS

Web Title: Mumbai bridge accident: case against BMC-Railways, CM will be strict action

More News From national

free stats