image

नई दिल्ली: लोकसभा चुनाव में साध्वी प्रज्ञा को बीजेपी ने मध्य प्रदेश के भोपाल से टिक्ट दिया है जिसके बाद राजनीति में बवाल मच गया है। साध्वी प्रज्ञा को टिक्ट मिलने पर विपक्ष लगातार बीजेपी सरकार को घेर रहा है। माध्वी प्रज्ञा ने बीते कर शहीद हेमंत करकरे पर विवादित बयान दिया है। साध्वी प्रज्ञा ने अपने बयान से न केवल पार्टी के लिए मुश्किल बढ़ाई है बल्कि खुद के लिए भी मुसीबत को न्योता दिया है। चुनाव आयोग ने साध्वी के शहीद हेमंत करकरे को लेकर दिए गए विवादित बयान को आदर्श आचार संहिता का उल्लंघन माना है। 

चुनाव आयोग ने नोटिस जारी करके साध्वी से सफाई मांगी है। बता दें कि उनके द्वारा आतंकी हमले में शहीद हेमंत करकरे को लेकर दिए बयान पर अनेक संगठन और पार्टियां लगातार ऐतराज जता रही हैं। मध्यप्रदेश चुनाव आयोग ने स्वत: संज्ञान लेते हुए साध्वी को नोटिस जारी किया है। जिला चुनाव अधिकारी और कलेक्टर ने नोटिस जारी करके साध्वी प्रज्ञा सिंह ठाकुर को आचार संहिता के तहत एक दिन के भीतर हेमंत करकरे पर उनकी टिप्पणी के लिए स्पष्टीकरण देने को कहा है। 

बता दें कि भोपाल सीट से बीजेपी उम्मीदवार साध्वी प्रज्ञा सिंह ठाकुर ने 26/11 मुंबई आतंकी हमलों का जिक्र करते हुए विवादित बयान दिया था। प्रज्ञा ने मुंबई एटीएस के तत्कालीन प्रमुख दिवंगत हेमंत करकरे पर आपत्तिजनक टिप्पणी की थी। साध्वी प्रज्ञा ने भोपाल में मीडिया से बातचीत के दौरान बताया कि उन्होंने करकरे से कहा था कि तुम्हारा सर्वनाश होगा। बता दें कि गुरुवार को बीजेपी ने साध्वी प्रज्ञा को अपना कैंडिडेट बनाते हुए दिग्विजय सिंह के खिलाफ उतारा है।

DainikSavera APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS

Web Title: Sadhvi Pradnya was Trapped after making a controversial statement on the martyr, EC issued notices and Asked Response

More News From national

Next Stories
image

free stats