image

भोपालः मध्य प्रदेश सरकार ने हर माह 150 यूनिट तक बिजली खपत करने वाले सभी घरेलू उपभोक्ताओं को प्रारंभिक 100 यूनिट बिजली एक रूपए की दर से देने का फैसला किया है। मुख्यमंत्री कमलनाथ की अध्यक्षता में राज्य मंत्रिमंडल ने सोमवार को इस प्रस्ताव को मंजूरी दी। बैठक में बाद प्रदेश के ऊर्जा मंत्री प्रियव्रत सिंह ने संवाददाताओं से कहा, ‘इंदिरा गृह ज्योति बिजली योजना अब तक केवल पंजीकृत गरीब श्रमिकों के लिए थी। लेकिन अब, हमने 150 यूनिट से कम खपत वाले सभी बिजली उपभोक्ताओं को इस योजना के दायरे में लाया है। हालांकि, उन्होंने स्पष्ट किया कि 150 यूनिट से अधिक बिजली खपत करने वाले घरेलू उपभोक्ताओं को वर्तमान में प्रचलित बिजली की दरों के अनुसार ही बिल का भुगतान करना होगा।

प्रियव्रत सिंह ने कहा, प्रति माह 150 यूनिट की सीमा के भीतर उपभोग करने वाले उपभोक्ताओं से प्रारंभिक 100 यूनिट के लिये एक रुपये प्रति यूनिट का शुल्क लिया जाएगा, जबकि अगले 50 यूनिट की कीमत मौजूदा दरों के अनुसार होगी। लेकिन प्रति माह 150 यूनिट से अधिक उपभोग करने वालों से मौजूदा घरेलू बिजली दरों के अनुसार ही शुल्क लिया जाएगा और इस श्रेणी में आने वाले उपभोक्ताओं को इस योजना के तहत लाभ नहीं मिलेगा।’ सिंह ने कहा कि इस योजना के लाभार्थियों को सामान्य उपभोक्ताओं की तुलना में अलग-अलग रंग का बिल दिया जाएगा।

बिजली बिलों में विसंगतियों के बारे में पूछे जाने पर मंत्री ने कहा, ऐसी शिकायतों की जांच के लिए हमने जिला स्तर पर समितियों का गठन किया है। अब हम इन समितियों को सशक्त बनाने जा रहे हैं।’उन्होंने यह भी बताया कि 30 यूनिट तक बिजली का उपभोग करने वाले अनुसूचित जाति और अनुसूचित जनजाति के उपभोक्ताओं से 25 रुपये प्रति माह की दर से शुल्क लिया जाएगा और उन्हें चार महीने में एक बार बिल भेजा जाएगा।
 

DainikSavera APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS

Web Title: Madhya Pradesh government's big gift, up to 100 units will get electricity at the rate of one rupee

More News From national

Next Stories
image

Auto Expo Amritsar 2019
Auto Expo Amritsar 2019
free stats