image

अमरावतीः आंध्र प्रदेश के अधिकारियों ने बाढ़ की भयावह स्थिति के मद्देनजर शनिवार को पूर्व मुख्यमंत्री एन. चंद्रबाबू नायडू को कृष्णा नदी के तट पर स्थित घर को खाली करने के लिए नोटिस दिया। कृष्णा नदी के बढ़ते पानी के कारण इसके किनारे के घरों में पानी घुसने की आशंका के साथ है। राजस्व अधिकारियों ने निवासियों को सुरक्षित स्थानों पर जाने के लिए कहा है। अधिकारियों ने कहा कि जानमाल के नुकसान को रोकने के लिए 32 घरों को नोटिस दिए गए।

तेलुगु देशम पार्टी (तेदेपा) के प्रमुख व आंध्र विधानसभा में विपक्ष के नेता चंद्रबाबू नायडू और उनके परिवार के सदस्य कुछ दिन पहले घर से चले गए थे। चूंकि नायडू के घर पर कोई भी नहीं था, इसलिए उन्दावल्ली ग्राम राजस्व अधिकारी (वीआरओ) ने इसके प्रवेश द्वार पर नोटिस चिपका दिया। हालांकि, सत्तारूढ़ वाईएसआर कांग्रेस पार्टी (वाईएसआरसीपी) के नेताओं का आरोप है कि नायडू ‘बाढ़ शुरू होने के बाद से हैदराबाद भाग गए हैं।’

इससे पहले शुक्रवार को, नायडू ने घर के ऊपर ड्रोन के मंडराते देखे जाने के बाद आरोप लगाया कि उनके खिलाफ साजिश रची जा रही है। तेदेपा कार्यकर्ताओं ने  विरोध प्रदर्शन कर दावा किया कि ड्रोन उनके पार्टी प्रमुख के घर की तस्वीरें ले रहा था। जल संसाधन मंत्री पी. अनिल कुमार ने हालांकि स्पष्ट किया कि जल संसाधन विभाग द्वारा बढ़े जल स्तर का  दृश्य लेने और बाढ़ की स्थिति की निगरानी के लिए ड्रोन तैनात किया गया था।
 

DainikSavera APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS

Web Title: Former CM Chandrababu Naidu notice to vacate the house

More News From national

Next Stories
image

free stats