image

नई दिल्ली: मोदी सरकार 2.0 ने बीते कल सोमवार को जम्मू-कश्मीर को विशेष दर्जा देने वाले अनुच्छेद 370 को हटा दिया है। अनुच्छेद 370 के हटते ही अब घाटी में जमीन लेने वाले व्यापार करने वालों के लिए रास्ते खुल गए हैं। इसी के चलते एशिया की सबसे बड़ी हेल्मेट कंपनी स्टीलबर्ड हाईटेक ने जम्मू-कश्मीर में विनिर्माण संयंत्र लगाने की पेशकश की है। स्टीलबर्ड ने सरकार के कदम का स्वागत करते हुए कहा कि इससे कश्मीर घाटी में नई औद्योगिक क्रांति शुरू होगी और साथ ही वहां के नागरिकों को रोजगार भी मिल सकेगा। 

स्टीलबर्ड हेल्मेट्स के चेयरमैन सुभाष कपूर ने कहा, ‘‘अनुच्छेद 370 को हटाने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और गृह मंत्री अमित शाह द्वारा उठाया गया यह बहुप्रतीक्षित कदम है। इस शानदार कदम से यह सुनिश्चित होगा कि कश्मीर घाटी भारत की मुख्याधारा में शामिल होगी और हमारे देश के सामूहिक विकास का हिस्सा बन सकेगी।’’ उन्होंने कहा कि अभी तक जम्मू-कश्मीर में ज्यादातर विनिर्माण गतिविधियां कृषि और हस्तशिल्प तक सीमित हैं। 

उन्होंने कहा, ‘‘हम अक्टूबर में होने वाले निवेशक सम्मेलन के अनुरूप वहां विनिर्माण संयंत्र लगाने की योजना बना रहे हैं। हमें उम्मीद है कि इससे कंपनियों को घाटी में मुक्त तरीके से समान नियमों के तहत काम करने में मदद मिलेगी।’’ कंपनी के प्रबंध निदेशक राजीव कपूर ने कहा, ‘‘हमारा मानना है कि नई परिवेश में कंपनियां सथानीय कारोबारियों के साथ मिलकर नई शुरुआत करेंगी। विभिन्न राज्यों में इसी तरह की शुरुआत के साथ प्रगति हुई है। यह शुरुआत स्थानीय लोगों के लिये बेहतर अवसर पैदा करेगी।’’

DainikSavera APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS

Web Title: Steelbird offered to set up a plant in Jammu and Kashmir

More News From business

Next Stories
image

free stats