image

नई दिल्लीः  कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने जम्मू कश्मीर के राज्यपाल सत्यपाल मलिक के विमान भेजकर राज्य की स्थिति का मुआयना करने के आमंत्रण को ठुकराते हुए मंगलवार को कहा कि उन्हें विमान नहीं चाहिए बल्कि वह सिर्फ यह चाहते हैं कि उन्हें राज्य के लोगों से मिलने की इजाजत मिले। राहुल गांधी ने कहा है कि वह विपक्ष के नेताओं के एक प्रतिनिधिमंडल के साथ जम्मू कश्मीर तथा लद्दाख के लोगों और वहां के प्रमुख नेताओं से मिलना चाहते हैं इसलिए राज्यपाल यह सुनश्चित करें के उन्हें स्वतंत्ररुप से वहां के लोगों के साथ बात करने का मौका मिले। 

Read More   कश्मीर मामले में दखल देने से सुप्रीम कोर्ट ने किया इंकार, कहा सरकार पर विश्वास रखें

गौरतलब है कि राहुल गांधी ने शनिवार को कांग्रेस कार्य समिति की बैठक में शामिल होने के बाद पत्रकारों से कहा था कि जम्मू कश्मीर में हालात बहुत खराब होने की रिपोर्ट हैं। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को वहां की वास्तविक स्थिति देश को बतानी चाहिए। उन्होंने कहा था कि नये कांग्रेस अध्यक्ष के चयन के लिए आयोजित कार्य समिति की बैठक में उन्हे इन्हीं रिपोर्टों के मद्देजनर बुलाया गया था और कार्य समिति ने इस बारे में विचार भी कर रही है। 

सत्यपाल मलिक ने सोमवार को राहुल गांधी की इस टिप्पणी पर तीखा प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए कहा कि राहुल गांधी सिर्फ बयानबाजी नहीं करें बल्कि जम्मू कश्मीर आकर स्थिति को देंखे। कश्मीर घाटी के उनके दौरे के लिए विमान की व्यवस्था की जाएगी।

Read More  लद्दाख के पास दिखे पाकिस्तान के लड़ाकू विमान, हो सकती है कोई खतरनाक साजिश

इसके बाद राहुल  गांधी ने ट्वीट कर मंगलवार को सत्यपाल मलिक को जवाब दिया और कहा ‘‘प्रिय राज्यपाल मलिकजी, मैं और विपक्ष के नेताओं का एक प्रतिनिधिमंडल आपके निमंत्रण पर जम्मू कश्मीर तथा लद्दाख आना चाहेगा। हमको आपका विमान नहीं चाहिए बल्कि यह सुनिश्चित करें कि हम स्वतंत्र रुप से घूम सकें और वहां के लोगों, मुख्यधारा के नेताओं तथा वहां की सुरक्षा में तैनात हमारे जवानों से हम मिल सकें।’’ 
 

DainikSavera APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS

Web Title: Rahul Gandhi will go to Jammu and Kashmir

More News From national

Next Stories
image

free stats