image

श्रीनगरः पीपुल्स डेमोक्रेटिक पार्टी (पीडीपी) अध्यक्ष एवं जम्मू-कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती ने कश्मीर घाटी में शुक्रवार देर रात छापे मारने के दौरान हुर्रियत कांफ्रेंस (एसची) और जमात-ए-इस्लामी के नेताओं और कार्यकर्ताओं की गिरफ्तारी पर सवालिया निशान लगाते हुए शनिवार को कहा, ‘‘आप किसी व्यक्ति को कैद कर सकते हैं उसके विचारों को नहीं।’’ पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा कि वह उठाये गये इस तरह के मनमाने कदमों को समझ नहीं पा रही है जो राज्य के मसलों को और बिगाड़ सकते हैं। 

Read More  पीएम मोदी का बड़ा बयान- हमारी लड़ाई कश्मीर के लिए है, कश्मीरियों के खिलाफ नहीं

महबूबा मुफ्ती ने ट्विटर में लिखा, ‘‘पिछले 24 घंटों के दौरान हुर्रियत नेताओं और जमात संगठनों के कार्यकर्ताओं को गिरफ्तार किया गया है लेकिन वह इस तरह के मनमाने कदमों को उठाने वाली बात को समझ नहीं पा रही हैं जिससे राज्य में मसले और बिगडेंगे। किस आधार पर उनकी गिरफ्तारी जायज ठहरायी जायेगी? 

Read More  तिरुपति से लौटे राहुल गांधी, छात्रों के बीच पुलवामा के शहीदों को दी श्रद्धांजलि

आप एक व्यक्ति को गिरफ्तार कर सकते हैं उसके विचारों को कैद नहीं कर सकते।’’ सुरक्षा बलों ने घाटी में कल देर रात छापेमारी के दौरान अलगावादी नेता मोहम्मद यासीन मलिक के अलावा हुर्रियत कांफ्रेंस के कई नेता और जेईआई के कई कार्यकर्ताओं को गिरफ्तार किया है। 
 

DainikSavera APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS

Web Title: Mehbooba Mufti statement on hurriyat leaders arrest in Kashmir

More News From national

Next Stories
image

free stats