image

जम्मू : श्री माता वैष्णो देवी यात्र को दुर्घटना मुक्त बनाने की कवायद के तहत इससे जुड़े श्रइन बोर्ड ने मंगलवार को टट्टू घोड़ा की मदद से यात्र करने वाले यात्रियों के लिए मंगलवार को कुछ सुरक्षा उपकरण प्रदान करने का एलान किया। जम्मू-कश्मीर के रियासी जिले के कटरा शहर से त्रिकुटा की पहाड़ी स्थित भवान तक टट्टू घोड़ों की मदद से यात्र करने वाले श्रद्धालुओं को अब हेलमेट के साथ-साथ घुटने और कुहनी गॉर्ड जैसे सुरक्षा उपकरण उपलब्ध कराये जायेंगे ताकि दुर्घटना की स्थिति में उन्हें लगने वाली चोटों से बचाया जा सके। श्रइन बोर्ड के मुख्य कार्यकारी अधिकारी सिमरनदीप सिंह ने कहा कि टट्टू की यात्र के दौरान होने वाली दुर्घटना से बचने के लिए इन उपकरणों की मदद लेने की योजना बनाई गयी है। 

गौरतलब है कि टट्टुओं की मदद से यात्र करने के दौरान उससे गिरकर कई यात्रिओं के घायल होने की घटनायें सामने आ चुकी हैं। इसके कारण पूर्व में दो यात्रियों की मौत भी हो चुकी है। श्री सिंह ने कहा कि भवान जाने वाले या फिर वहां से लौटने के दौरान टट्टू पर सवार हरेक यात्री को अब हेलमेट तथा घुटना तथा कुहनी गॉर्ड उपलब्ध कराये जायेंगे ताकि दुर्घटनाओं को रोका जा सके। गर्मी की छुट्टियों के शुरु होने के बाद आने वाले दो महीनों के दौरान विश्व प्रसिद्ध इस पवित्र गुफा यात्र के दौरान यात्रियों की भारी भीड़ उमड़ने की संभावना है। 

DainikSavera APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS

Web Title: Making the Vaishno Devi Tour crashless

More News From jammu-kashmir

Next Stories
image

free stats