image

जालंधरः पुलवामा अटैक के बाद सरकार और सेना दोनों ही एक्शन में है। पुलवामा हमले के मास्टरमाइंड राशिद गाजी को मारने के बाद अब सेना का जम्मू कश्मीर में सर्च अभियान जारी है और कश्मीर के अलग अलग हिस्सों में छुपकर बैठे आतंकियों को मारने के लिए सेना ने अपनी कमान संभाल ली है।

Read More  लाल चौक पर झंडा फहराने पहुंच गए अकाली वर्कर, माहौल हुआ तनावपूर्ण

वहीं पंजाब से ङी पैरामिलिट्री फोर्स की 100 कंपनियां और करीब 10 हजार जवानों को कश्मीर भेजा गया है। इन में ITBP, SSB, CRPF, CISF , BSF  की 100 कंपनियों को तत्काल मूवमेंट के लिए बोला गया है। अंदेशा लगाया जा रहा है कि भारतीय सेना अब आतंकवाद को खत्म करने के लिए हर संभव कदम उठा रही है और मोदी सरकार ने भी अब सेना के हाथ खोल दिए हैं। 

Read More  अमेरिका में पुलवामा हमले का विरोध, पाकिस्तान के खिलाफ जमकर हुई नारेबाजी 

इसके लिए अब सेना को जिस प्रकार की भी जरुरत होगी, मोदी सरकार उनका साथ देगी। अब पाकिस्तान को मुंहतोड़ जवाब देने का वक्त है। यह बात खुद पीएम मोदी ने भी अपने कई भाषणों में बोली है। मोदी ने सारे देश को यह आश्वासन दिलाया है कि अब पाकिस्तान के साथ बातचीत करने का समय खत्म हो चुका है। 

DainikSavera APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS

Web Title: Army immediately called for ten thousand jawans

More News From national

IPL 2019 News Update
free stats