image

पानीपत : सीटू से संबंधित इंडस्ट्रीयल वर्कर्स यूनियन के नेतृत्व में स्पीनिंग उद्योगों के हजारों मजदूरों ने इसी माह 8 अप्रैल को फैक्टरी मालिकों से हुए समझौते को लागू नहीं करने के खिलाफ विशाल रोड प्रदर्शन करते लघु सचिवालय में रोष व्यक्त किया। वहीं मजदूरों ने श्रम विभाग के अधिकारियों को चेतावनी देते हुए कहा कि यदि विभाग ने सरकार द्वारा निर्धारित न्यूनतम वेतन के साथ मार्च 2019 का बकाया वेतन पिछले ऐरियर के साथ श्रम विभाग के कार्यालय में नहीं दिलवाया तो श्रम विभाग कार्यालय पर ही पड़ाव डाला जाएगा। यूनियन पदाधिकारियों ने कहा कि इस बारे में पहले उपायुक्त को भी ज्ञापन दिया गया था, लेकिन श्रम विभाग समझौता होने के बावजूद भी मजदूरों को वेतन दिलवाने में नाकाम रहा। इसलिए जिला प्रशासन इस मामले में हस्तक्षेप करके मजदूरों को वेतन दिलवाने का काम करे। वहीं मजदूरांे ने सरकार को चेतावनी दी की यदि उनकी कोई सुनवाई नहीं हुई तो मजदूरों द्वारा लोकसभा चुनाव का बहिष्कार किया जाएगा। रोष प्रदर्शन को संबोधित करते हुए सीटू राज्य महासचिव का. जयभगवान ताहरपुरिया ने कहा कि भाजपा सरकार मजदूरों के हित में नहीं है और सरकार पुंजिपतियों का साथ दे रही है। उन्होंने कहा कि मजदूर आंदोलनों को पुलिस के दम पर दबाने का प्रयास किया जाता है। सीटू सरकार से मांग करती है कि स्पीनिंग उद्योगों के मजदूरों के वेतन का जल्द समाधान किया जाए नहीं तो यह आंदोलन प्रदेश स्तर पर चलाया जाएगा। वहीं इससे पहले मजदूर हाली पार्क में एकत्रित हुए और सीटू जिला प्रधान सुनील दत्त और इंडस्ट्रीयल वर्कर्स यूनियन प्रधान जयभगवान के नेतृत्व में जुलूस के रूप में नारेबाजी करते हुए लघु सचिवालय पहुंचे। प्रदर्शन को सीटू नेता गुलाब सिंह, महेश शर्मा, सुनील संन्यासी आदि ने संबोधित किया। 

DainikSavera APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS

Web Title: Thousands of workers of spinning industries have performed on minimum wages

More News From haryana

free stats