image

सोनीपत : हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने कहा है कि एसवाईएल नहर प्रदेश की जीवन रेखा है और राज्य अपने हिस्से के पानी का हक लेकर रहेगा।श्री खट्टर ने यहां आयोजित एक कार्यक्रम में कहा कि प्रदेश में पानी की कमी पूरा करने के लिए किशाऊ और लखवार नई बांध परियोजनाएं प्रारम्भ की गई हैं जिससे पानी की करीब 47 प्रतिशत जरुरत पूर्ण होगी। उन्होंने कहा कि वह प्रदेश को  देश में सबसे आगे लेकर जाने के लिए प्रयासरत हैं। इसके लिए योजनाबद्ध तरीके से कार्य किया जा रहा है। प्रदेश के सभी परिवारों का हर प्रकार का आंकड़ा जुटाया जा रहा है। आने वाले समय में लोगों को अधिकारियों के पास जाने की जरुरत नहीं पड़ेगी बल्कि आंकड़ों के आधार पर अधिकारी स्वयं घर-घर जाकर लोगों की जरुरतें पूर्ण करेंगे। 

मुख्यमंत्री ने कहा कि केंद्र और प्रदेश सरकार लोगों को सामाजिक सुरक्षा प्रदान करने के लिए हरसम्भव कदम उठा रही है ताकि हर व्यक्ति-हर परिवार सुखी हो। उन्होंने कहा कि उनकी सरकार ने प्रदेश में भेदभाव रहित और एक समान विकास की अवधारणा के साथ काम किया है और कहीं भी काम में कोई कमी नहीं छोड़ी गई। देश-प्रदेश में विकास के नये आयाम स्थापित किये गए हैं। उज्ज्वला योजना के माध्यम से महिलाओं को धुएं से मुक्ति दिलाई गई है। प्रदेश आज पूर्ण रुप से कैरोसिन मुक्त हो गया है। किसानों को रिकॉर्ड मुआवजा दिया गया है। आयुष्मान योजना से बेहतरीन उपचार सुविधा प्रदान की गई है। उन्होंने किसानों का आह्वान किया कि वे जल संरक्षण के लिए धान के बजाय अन्य फसलों की खेती करें। 
उन्होंने ‘मेरी फसल-मेरा ब्यौरा’ योजना की जानकारी देते हुए कहा कि किसान इस सम्बंध में पोर्टल पर अपना पंजीकरण अवश्य करायें। उन्होंने बताया कि अब तक 25 लाख किसान इस पोर्टल पर पंजीकरण करा चुके हैं। 

DainikSavera APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS

Web Title: The life line of SVL Haryana will continue with the water of its share: Khattar

More News From haryana

Next Stories
image

free stats