image

रोहतक : पीजीआई से नवजात बच्ची चोरी करने के मामले में गिर तार की गई महिला बार बार अपने बयान बदल रही है। पुलिस ने मामले की जांच के लिए डीएसपी के नेतृत्व में एसआईटी गठित की है। पुलिस का कहना है कि 2017 में पीजीआई से चोरी नवजात शिशु चोरी के मामले में महिला से पूछताछ होगी। पुलिस को शक है कि कही महिला बच्च चोर गिरोह की सदस्य तो नहीं है। पुलिस की एक टीम महिला के गांव में जाकर जांच पडताल में जुटी है। जांच पडताल में भी यह बात सामने आई है कि चार माह पहले आरोपी महिला की भी डिलीवरी हुई थी और उसके बच्चे के बारे में भी कोई पता नहीं है और वह परिजनो को भी गुमराह कर रही है। पुलिस ने आरोपी महिला को अदालत में पेश किया और उसे सात दिन के पुलिस रिमांड पर भेजने की मांग की। अदालत ने अर्जी पर सुनवाई करते हुए आरोपी महिला को पांच दिन के पुलिस रिमांड पर भेज दिया। पुलिस आरोपी से पूछताछ कर रही है। पीजीआई से नवजात बच्ची चोरी करने के मामले में गिर तार की गई सोनीपत के गांव रेवली निवासी महक उर्फ ममता से पुलिस लगातार पूछताछ कर रही है। हालांकि अभी तक महक अपने बार बार बयान बदल रही है। ममता ने पुलिस को बताया कि चार साल पहले वह पीजीआई के लॉन्र्डिग विभाग में कार्यरत थी। वीरवार को वह बच्ची को चुराने के लिए योजना बनाए हुए थी और जैसे ही उसे मौका मिला वह बच्ची को लेकर पीजीआई से फरार हो गई थी।

 

पूरी वारदात पीजीआई के सीसीटीवी में कैद हो गई, जिस पर पुलिस ने सोशल मीडिया के माध्यम से सभी थानो को बच्ची चोरी करने वाली महिला की फोटो भेज दी। इसी दौरान सोनीपत पुलिस के एक सिपाही को उक्त महिला बच्ची के साथ दिखाई दी और जब पूछताछ की गई तो महिला बहक गई। इसके बाद पुलिस उसे चौकी ले आई। बाद में सोनीपत पुलिस द्वारा सूचना मिलने पर रोहतक पुलिस सोनीपत पहुंची और महिला को बच्ची सहित रोहतक ले आई। पूछताछ के दौरान आरोपी महिला की पहचान सोनीपत के गांव रेवली निवासी महक उर्फ ममता के रूप में हुई। पुलिस ने महिला से पूछताछ की तो वह गुमराह करती रही। पुलिस का कहना है कि महिला से साइंसटिक तरीक्के से पूछताछ की जाए ताकि पूरे मामले का पता चल सके। इसके लिए बकायदा डीएसपी मोह मद जमाल के नेतृत्व में एसआईटी गठित की है और पीजीआई थाना पुलिस ने आरोपी महिला के खिलाफ अपहरण सहित विभिन्न धाराओ के तहत केस दर्ज कर लिया। नवजात बच्ची के परिजनों ने पुलिस का आभार व्यक्त किया। साथ ही पुलिस अधीक्षक ने मामले का खुलासा करने वाली पीजीआई पुलिस की भी पीट थपथपाई। पुलिस आरोपी महिला से पूछताछ कर रही है। 

DainikSavera APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS

Web Title: Former PG employee had only stolen a newborn baby

free stats