image

अंबाला : लोकसभा चुनावो के नतीजों के बाद सभी पार्टियों को समझ आ गया है कि विधानसभा चुनावों के नतीजे अच्छे चाहिए तो ए.सी. दफ्तरों को छोड़ जनता के बीच जाना होगा। इसी को लेकर मंगलवार को अंबाला में जन नायक जनता पार्टी के संयोजक दुष्यंत चौटाला कार्यकर्ताओ के बीच जोश भरने के लिए पहुंचे। अंबाला में दुष्यंत ने कार्यकर्ताओ को 100 दिन में संगठन मजबूत करने की सलाह दी। साथ ही दुष्यंत ने दावा किया कि विधानसभा चुनावो में परिस्थितियां लोकसभा चुनावो से अलग होगी। गोतरा पैलेस  में पार्टी कार्यकर्ताओं से भरे सभागार में दुष्यंत चौटाला ने कहा कि लोकसभा चुनाव में राष्ट्रवाद जैसे भावनात्मक मुद्दों से प्रभावित होकर लोगों ने नरेंद्र मोदी के नाम पर वोट दे दिए, लेकिन विधानसभा चुनाव में वही लोग हरियाणा के भाजपाईयों को सबक सिखाने का इंतजार कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि देश के नाम पर तो 1984 में लोगों ने काग्रेस को 432 सीटें दी थी लेकिन 3 साल बाद हरियाणा में विधानसभा चुनाव हुए तो कांग्रेस को 90 में से 5 सीटों पर समेट दिया और चौधरी देवीलाल के नेतृत्व वाले विपक्ष को 85 सीटें दी। दुष्यंत ने कहा कि जो काम 30 साल पहले 3 साल में हुआ, वो इस साल 3 महीने में हो जाएगा क्योंकि अब लोगों तक सूचनाएं बहुत तेज़ी से पहुंचती हैं। उन्होने कहा कि लोकसभा चुनाव की हार से कार्यकर्ताओं को निराश होने की जरूरत नहीं है। मात्र 6 महीने पहले बनी जजपा ने बड़ी मजबूती के साथ जींद उपचुनाव और लोकसभा का चुनाव लड़ा है। चौटाला ने कार्यकर्ताओं में जोश भरते हुए कहा कि तमाम परिस्थितियों में जजपा के कार्यकर्ताओं ने मेहनत के दम पर ये साबित कर दिखाया कि अगर कोई प्रदेश में बदलाव ला सकता है तो वो जननायक जनता पार्टी ही है। इस अवसर पर जिला प्रधान सुरजीत सिंह सोंडा, बलिंद्र सिंह लंडा, विवेक चौधरी,  हरपाल कंबोज,  राम सिंह कोडवा, रविंदरजीत सिंह डेजी, देवेंद्र सिंह बिल्ला, दलवीर सिंह पुनिया,  हरकेश सुल्लर, सरवन सिंह ,अनिल जन्धेडी, अमरेंद्र सिंह सोंटा, सर्वजीत कौर,रेनू सिंह, रजनीश शर्मा, हरविंदर बलाना, देवेंद्र सैनी, रवि बब्याल, संदीप राणा, जगदीप धन्यौडा, नवीन हरी, एम एस ढिल्लो, सुखदेव बनौंदी आदि उपस्थित थे।

DainikSavera APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS

Web Title: Dushyant Chautala's enthusiasm among workers

More News From haryana

Next Stories
image

free stats