image

अंबाला : बिल एवं जुर्माना माफी योजना की अवधि एक माह बढ़ाने के बावजूद 95 फीसद डिफाल्टरों से वसूली करने का लक्ष्य अधिकारी जिले में पूरा नहीं कर पाए। करीब 82 फीसद डिफाल्टरों से ही इस अवधि में रिकवरी हो सकी। इसके लिए भी खूब जद्दोजहद करनी पड़ी। बड़ी बात यह है कि जिन 45 हजार 328 डिफाल्टरों ने निगम अधिकारियों ने करीब 16 करोड़ रुपये की वसूली की उसके लिए सरकार को 30 करोड़ से ज्यादा रुपये के बिल और जुर्माना राशि छोड़नी पड़ी। जिले की बात करें तो 31 जून 2018 तक जिले में कुल 55 हजार 55 डिफाल्टर थे और इन पर 64.84 करोड़ रुपये के बिल पैंडिंग थे। योजना खत्म होने के बाद स्थिति यह है कि जिले में वर्तमान में 9727 डिफाल्टरों पर करीब 19 करोड़ रुपए की देनदारी खड़ी है।

अलबत्ता अब इस 19 करोड़ रुपए की रिकवरी कैसे की जाए इसी को लेकर रणनीति शुरू हो गई है। बड़ी बात यह है कि इस रिकवरी को करने में अब अधिकारियों के पसीने छूटने तय हैं। क्योंकि बहुत से ऐसे डिफाल्टर हैं जिन्हें विभाग आज तक ट्रेस ही नहीं कर पा रहा।

DainikSavera APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS

Web Title: 30 crores to leave for recovering 16 crores from 45 thousand 328 defaulters

More News From haryana

Next Stories
image

free stats