image

एक तरफ किसकों की पकी हुई फसलें और दूसरी तरफ आंधी-तूफान और बारिश का कहर। देश भर में आंधी-तूफान ने कई शहरों में कहर बरपाया है। देश के ज्यादातर शहरों में तेज आंधी और बारिश के साथ ओले गिरे हैं। कुदरत के इस कहर में कई लोगों की जाने चली गईं हैं। राजस्थान में आंधी-तूफान की वजह से 9 लोगों की मौत हुई है, जबकि मध्य प्रदेश में 10 लोगों की जान गई है।  पूरे देश में आंधी तूफान के चलते 28 लोगों की मौत हुई है। मौसम विभाग ने आज भी आंधी-तूफान का अलर्ट जारी किया है। गुजरात और मध्य प्रदेश के साथ राजस्थान के भी कई इलाकों में जानलेवा आंधी-तूफान ने दस्तक दी।

राजस्थान के प्रतापगढ़ औऱ झालावाड़ में तेज आंधी और बारिश ने लोगों का जीना-मुहाल कर दिया। कई जगहों पर पेड़ उखड़ गए और बिजली के खंभे सड़क पर आ गिरे। राजस्थान में आंधी-तूफान की वजवह से 9 लोगों की मौत हुई है, जबकि 20 लोग घायल हुए हैं, लेकिन आंधी-तूफान का खतरा टला नहीं है। मध्य प्रदेश, राजस्थान और हिमाचल प्रदेश में मौसम विभाग ने तूफान का अलर्ट जारी किया है। यहां एक बार फिर जानलेवा आंधी-तूफान दस्तक दे सकता है। इन जगाहों पर आंधी तूफान के कहर ने कई लोगों की जान ले ली है।

मध्य प्रदेशः मध्य प्रदेश के झाबुआ में भी अचानक मौसम का मिजाज बदला और काले बादलों के साथ बारिश ने कहर बरपाया। यहां हवाओं की रफ्तार इतनी तेज थी जैसे सब कुछ उड़ा लेने पर आमादा हो। मध्यप्रदेश में तेज बारिश के दौरान आकाशीय बिजली गिरने से 10 लोगों की मौत हुई है। इंदौर में 3, धार और खरगोन में 2, राजगढ़, रतलाम और सीहोर जिले एक-एक लोगों की मौत हुई है।

राज्यस्थानः राजस्थान में में 9 लोगों की मौत हुई है और 20 लोग घायल हो गए हैं। सबसे ज्यादा तबाही उदयपुर और झालावाड़ में हुई है। झालावाड़ में 4 मौतें हुई हैं जबकि उदयपुर में बिजली के 800 पोल और 70 ट्रांसफार्मर गिर गए। उदयपुर के रेलवे स्टेशन के टीन छत उड़ गए। झालावाड़ के गणेशपुरा में कच्चा मकान ढहने से दो बहनों की मौत हो गई तो संभल में बिजली गिरने से दो बच्चों की मौत हो गई। इसी तरह से उदयपुर के सैलाना और आसमान में बिजली गिरने से एक की मौत हो गई। अलवर में शादी के दौरान गिरने से दुल्हन के भाई की मौत हो गई जबकि शादी में शामिल हुए 14 लोग घायल हो गए।इसी तरह से हनुमानगढ़ के करनी सर और जयपुर के जमवारामगढ़ में भी दीवार ढहने से दो लोगों की मौत हो गई।

गुजरातः गुजरात में भी आंधी-तूफान के कारण 9 लोगों की मौत हो गई है। अहमदाबाद, राजकोट, बनासकांठा, पाटन, महेसाना, साबरकांठा, आणंद, खेड़ा में बेमौसम बारिश के वजह से किसानों की फसल पूरी तरह बर्बाद हो गई। आंधी-तूफान का कहर चुनाव पर भी दिख रहा है। आज पीएम मोदी की गुजरात में तीन रैलियां है। कई जगहों पर उनके स्वागत में लगाए गए होर्डिंग गिर गए हैं। बुधवार को मौसम विभाग ने भी देश के कई राज्यों में आंधी और बारिश का अलर्ट जारी किया है। हवाओं की रफ्तार 50 किलोमीटर प्रति घंटा तक रह सकती है। मध्यप्रदेश के नीमच, मन्दसौर, राजगढ़, शाजापुर, सीहोर, भोपाल, गुना, विदिशा, भिंड, दतिया और अशोकनगर में तेज आंधी तूफान का अलर्ट है।

DainikSavera APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS

Web Title: The storm created havoc in many cities of the country, Danger alert after 28 people's death

More News From national

IPL 2019 News Update
free stats