image

अहमदाबादः मौसम विभाग ने गुजरात में चक्रवात वायु का अलर्ट पहले से ही जारी कर दिया था। अब चक्रवात वायु ने गुजरात के तटीय क्षेत्रों में दस्तक दे दी है। मौसम विभाग के अनुसार चक्रवात वायु के कारण आने वाली हवाओं की अधिकतर रफ्तार करीब 75 किलोमीटर से लेकर 135 किलोमीटर तक हो सकती है। गुजरात के तटीय क्षेत्रों की सुरक्षा को सुनिश्चित करने के लिए सेना की मदद ली जा रही है। बताया जा रहा है कि वायु का प्रभाव गुजरा में 12- 13 जून को होगा और वायु चक्रवात सौराष्ट्र तट पर दस्तक देगा। 

तूफान के कारण अहमदाबाद, गांधीनगर और राजकोट समेत तटवर्ती इलाके वेरावल, भुज और सूरत में हल्की बारिश हो सकती है। चक्रवात के कारण सौराष्ट्र के भावनगर, अमरेली, सोमनाथ, वेरावल, जामनगर, पोरबंदर और कच्छ समेत कई इलाकों में तेज हवाओं के साथ भारी बारिश की संभावना है। वहीं चक्रवात के मामले को देखते हुए गुजरात के सीएम विजय रूपाणी ने अधिकारियों के साथ बैठक की।  चक्रवात वायु के मद्देनजर गुजरात के मुख्यमंत्री विजय रूपाणी ने पूरे राज्य में 13 से 15 जून तक 3 दिवसीय शाला प्रवेशोत्सव (स्कूल उत्सव का स्वागत) रद्द कर दिया है। वहीं जहां चक्रवात का असर देखा जा सकता है उन 10 जिलों के स्कूलों और कॉलेजों में 13 और 14 जून को दो दिन की छुट्टी की घोषणा की है।  वहीं वलसाड में बारिश ने भी दस्तक दे दी है। 

सेना भी अलर्ट पर

अनुमान लगाया जा रहा है कि यह चक्रवाती तूफान 13 जून की सुबह पोरबंदर और महुआ के बीच वेरावल और दीव के बीच समुद्र तट को पार करेगा। मौसम विभाग ने फिलहाल सभी बंदरगाहों पर साइक्लोनिक वॉर्निंग जारी किया है और मछुआरों को समुद्र में न जाने की सलाह दी गई है। साथ ही बंदरगाहों को खतरे के संकेत और सूचना जारी करने को कहा गया है। वहीं इसे देखते हुए प्रशासन भी अलर्ट पर है और पुख्ता इंतजाम किए गए हैं।  चक्रवात को लेकर सेना और एनडीआरएफ की टीमें अलर्ट पर हैं। गुजरात में एनडीआएफ की कुल 26 टीमें लगाई गई हैं तो वहीं 10 को स्टैंडबाय पर रखा गया है। 26 में से 16 टीमों को राजकोट में तैनात किया गया है।

DainikSavera APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS

Web Title: Cyclonic Storm Vayu entered in Gujarat within 2 days

More News From national

Next Stories

image
free stats