image

नई दिल्लीः कांग्रेस के वरिष्ठ नेता अहमद पटेल ने राफेल सौदे से जुड़ी नियंत्रक एवं महालेखा परीक्षक कैगी की रिपोर्ट को लेकर बृहस्पतिवार को नरेंद्र मोदी सरकार पर निशाना साधा और आरोप लगाया कि रिपोर्ट के जरिए सरकार को इस मामले में कृपांक देने की कोशिश हुई है।


पटेल ने ट्वीट कर कहा, ‘‘राफेल सौदे पर कैग रिपोर्ट उस परीक्षा की तरह है जिसमें शिक्षक किसी छात्र को उत्तीर्ण होने के लिए तय न्यूनतम अंक हासिल कराने के लिए सभी नियमों को बदल देता है। इस तरह से कोई परीक्षा पास करना अधिकृत रुप से नकल कराना हुआ।’’  उन्होंने कहा, ‘‘गुजराती में हम इसे कृपा गुण कृपांकी कहते हैं।’’ कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने राफेल सौदे पर कैग की रिपोर्ट को खारिज करते हुए बुधवार को कहा था कि इसमें वार्ताकारों की असहमति वाली टिप्पणियां नहीं हैं और उन्हें इस रिपोर्ट का इसके कागजर् जिस पर यह लिखी गयी हैी जितना भी महत्व नजर नहीं आता।

गौरतलब है कि कैग ने अपनी रिपोर्ट में कहा है कि 36 लड़ाकू राफेल विमानों की खरीद के लिए राजग सरकार ने प्रांस की दसाल्ट के साथ जो सौदा किया वह इन विमानों की खरीद के लिए 2007 में की गई तत्कालीन संप्रग सरकार की वार्ता पेशकश की तुलना में 2.86 फीसदी सस्ता है। हालांकि, रिपोर्ट में इन विमानों की कीमतों का जिव्र नहीं है।
 

DainikSavera APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS

Web Title: Ahmed Patel Statement on CAG report in Rafael case

More News From gujarat

free stats