image

नई दिल्ली: लोकसभा चुनाव की तारीखों का ऐलान होने के बाद हर एक पार्टी अपने उम्मीदवारों को फाइनल करने में जुटी है। ऐसे में आम आदमी पार्टी को झटका लग सकता है। आप की असंतुष्ट विधायक अलका लांबा ने कहा है कि अगर कांग्रेस पार्टी में शामिल होने के लिए उनसे संपर्क किया जाता है तो वह प्रस्ताव पर विचार करेंगी। उन्होंने यह भी कहा कि आगामी कुछ दिनों में दिल्ली में कांग्रेस और आप के बीच गठबंधन की संभावना है। अलका ने कहा, ‘यह समय भाजपा के खिलाफ देशव्यापी आंदोलन में में शामिल होने का है और अगर कांग्रेस मुझसे संपर्क करती है तो मैं प्रस्ताव पर विचार करूंगी और इससे इंकार नहीं करूंगी।' 

गुजरात कांग्रेस की वेबसाइट हैक, पाटीदार नेता की पोस्ट की ऐसी तस्वीर

साथ ही उन्होंने कहा, ‘मैं दो दशक तक कांग्रेस में रही हूं। कांग्रेस अच्छा कर रही है और यह समय भाजपा के खिलाफ आंदोलन में शामिल होने का है।' बता दें, लोकसभा चुनाव से पहले आम आदमी पार्टी और विधायक अलका लांबा के बीच तनातनी चल रही है। आम आदमी पार्टी और विधायक अलका लांबा के बीच मतभेद बीते 2 महीनों से लगातार बना हुआ है। दिसंबर के आखिर में दिल्ली विधानसभा में भूतपूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी से भारत रत्न सम्मान वापस लिए जाने का एक प्रस्ताव पास किया गया था।

इस दिन भारत में Xiaomi लॉन्च करेगा सबसे सस्ता स्मार्टफोन

आम आदमी पार्टी सूत्रों का कहना है कि विधायक अलका लांबा ने दिल्ली कांग्रेस के एक नेता के कहने पर यह प्रस्ताव बिना पार्टी की सहमति के सोमनाथ भारती के जरिए 1984 हिंसा संबंधित मूल प्रस्ताव में शामिल करवाया, जिससे पार्टी की फजीहत हुई। हालांकि, आम आदमी पार्टी की तरफ से औपचारिक रूप से अलका लांबा के बारे में ऐसा कुछ नहीं कहा गया है। जबकि अलका लांबा का तभी से ये कहना है कि 'मैंने इस प्रस्ताव का विरोध किया था और सदन से बाहर चली गई थी'।

DainikSavera APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS

Web Title: The Kejriwal government may feel shock, Alka Lamba said: "Offer to join Congress will not deny it."

More News From national

Next Stories

image
IPL 2019 News Update
free stats