image

हर नागरिक के जरुरी है आधार, आज कई काम आधार से जोड़े गए हैं। लेकिन केंद्र की मोदी सरकार ने आधार के इस्तेमाल के जरिए ड्राइविंग लाइसेंस के वेरिफिकेशन पर रोक लगाने का फैसला किया है। सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी ने सोमवार को राज्यसभा इसकी जानकारी देते हुए संसद में बताया कि मंत्रालय ने 26 सिंतबर 2018 को सुप्रीम कोर्ट द्वारा दिए गए आदेश का पालन करते हुए ड्राइविंग लाइसेंस का आधार के जरिए वेरिफिकेशन की प्रक्रिया को रोक दिया है। 

नितिन गडकरी आगे कहा कि नेशनल इन्फॉर्मेटिक्स सेंटर द्वारा उपलब्ध कराई गई सूचना के मुताबिक, ड्राइविंग लाइसेंस के लिए 1,57,93,259 आधार नंबर प्राप्त हुए हैं। व्हीकल रजिस्ट्रेशन के लिए 1.65 करोड़ आधार नंबर मिले हैं। गडकरी ने कहा कि RTOs पर बायोमेट्रिक के कलेक्शन की प्रक्रिया बंद कर दी गई है।

आपको बता दें कि सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी  का कहना है कि सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद ड्राइविंग लाइसेंस के ​वेरिफिकेशन को रोक दिया। आधार को ड्राइविंग लाइसेंस के साथ लिंक करवाने के पीछे सरकार यह सुनिश्चित करना चाहती थी की एक व्यक्ति के पास एक से अधिक ड्राइविंग लाइसेंस ना हो।
 

DainikSavera APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS

Web Title: Stop the process of driving license verification on Aadhaar

More News From national

Next Stories
image

free stats