image

पटनाः लोकसभा चुनाव के दौरान पार्टी बीजेपी से इस्तीफा देने के बाद कांग्रेस पार्टी का हाथ थामने वाले शत्रुघ्न सिंहा ने बहुत बड़ा दावा किया है। कांग्रेस के टिकट पर पटना साहिब से चुनाव लड़ रहे शत्रुघ्न सिन्हा ने दावा किया है कि जब उन्होंने पार्टी छोड़ी तब भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) के नेता और मर्गदर्शक मंडल के सदस्य लाल कृष्ण आडवाणी रो रहे थे। शत्रुघ्न सिन्हा ने कहा कि जब मैनें बीजेपी छोड़ कांग्रेस में जाने का फैसला किया उस दौरान मैं उनसे मिला था। उन्होंने मुझे शुभकानाएं दी। वह भावुक थे। उनके आंखों में आंसू थे। एनडीटीवी से बातचीत करते हुए शत्रुघ्न सिन्हा ने कहा, 'मेरे फैसले के बारे में जब एलके आडवाणी को जानकारी मिली तब उनकी आंखों में आंसू थे। लेकिन उन्होंने मुझे ऐसा करने से रोका नहीं।'

उन्होंने कहा, 'जब मैंने अपनी राजनीतिक पारी की नई शुरुआत करने का फैसला किया तो मैंने पहले आडवाणी जी का आशीर्वाद लिया। उन्होंने मुझे शुभकामनाएं दी, वो भावुक थे, उनके आंखों में आंसू थे, लेकिन उन्होंने मुझे रोका नहीं।' बता दें कि लोकसभा चुनाव में पटना साहिब से टिकट न मिलने से नाराज शत्रुघ्न सिन्हा बीजेपी छोड़ कांग्रेस में शामिल हो गए। कांग्रेस ने उन्हें पटना साहिब से अपना उम्मीदवार बनाया है। इस सीट पर बीजेपी ने रवि शंकर प्रसाद को अपना उम्मीदवार बनाया है। सातवें चरण यानि 19 मई (आखिर चरण) को यहां वोट डाले जाएंगे। वोटों की गिनती 23 मई को होगी। इस सीट पर कांटे की टक्कर देखने को मिल रही है।

DainikSavera APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS

Web Title: Shatrughan Sinha said- When I left my party then Lal Krishna Adwani gets emotiona

More News From national

IPL 2019 News Update
free stats