image

नई दिल्ली: देश में लगातार गोरक्षकों के नाम हो रही मॉब लींचिंग का मामला अब लोकसभा में उठा है। कथित गोरक्षकों की हिंसा के खिलाफ कार्रवाई की मांग आज संसद में भी उठी और सरकार ने भी भरोसा दिलाया कि उनके खिलाफ जरूर कार्रवाई की जाएगी। दरअसल, केरल के तिरुवंतपुरम से सांसद शशि थरूर ने गो रक्षा में शामिल उन समितियों के खिलाफ कार्रवाई की मांग की जो गैर कानूनी ढ़ंग से चल रही है। 

इसी के जवाब में केंद्रीय पशुपालन और मत्स्य मंत्री गिरिराज सिंह ने कहा कि हमें समितियों का नाम दें जरूर कार्रवाई करेंगे। थरूर ने लोकसभा में पूछा, 'कई गो संरक्षक समितियां गैर मान्यता प्राप्त हैं और गैर कानूनी तरीकों से चल रही हैं जो कि गोरक्षा के नाम पर हिंसा और लिंचिंग जैसी घटनाओं को अंजाम देती है। यहां गृह मंत्री अमित शाह भी मौजूद हैं, मैं मंत्री से पूछना चाहता हूं कि क्या ऐसा प्रावधान किया जा सकता है जिसके माध्यम से केवल सरकार द्वारा अधिकृत समितियों को ही गोरक्षा करने की अनुमति दी जाए। 

गैरकानूनी तरीके से चल रही समितियों को अनुमति नहीं दी जाए जो कि हिंसा की गतिविधियों में शामिल रहे हैं।' कांग्रेस सांसद के सवालों का जवाब देते हुए गिरिराज सिंह ने कहा, 'एनिमल वेलफेयर बोर्ड द्वारा तय मापदंड के अनुसार अगर गोरक्षक समितियां नहीं होगी तो उसके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी। माननीय सदस्य अगर समितियों का नाम देते हैं तो जरूर कार्रवाई होगी।' 

DainikSavera APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS

Web Title: Shashi Tharoor's question raised by illegal guraksha committees, Giriraj said- Name will take action

More News From national

Next Stories

image
free stats