image

नई दिल्लीः पिछले दिनों उत्तर प्रदेश के सीएम योगी आदित्यनाथ के बारे में आपत्तिजनक पोस्ट करके बुरे फंसे पत्रकार प्रशांत कनौजिया को सुप्रीम कोर्ट ने जल्द रिहा करने का आदेश दिया। इसी के साथ ही देश में इस मामले ने तूल पकड़ ली और विपक्ष ने भी योगी सरकार को इस बारे में घेरने में कोई कसर नहीं छोड़ी।

कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी ने ट्वीट करके बीेजेपी पर निशाना साधा और पत्रकार प्रशांत किशोर को जल्द से जल्द रिहा करने की बात कही। राहुल गांधी ने अपने बारे में फलाए जाने वाले झूठ का हवाला देते हुए ट्वीट किया,"अगर मेरे खिलाफ आरएसएस-बीजेपी प्रायोजित विषैले दुष्प्रचार चलाने और गलत रिपोर्ट देने के लिए पत्रकारों को जेल में डाला जाए तो ज्यादातर अखबारों/समाचार चैनलों को बड़े पैमाने पर कर्मचारियों की कमी सामना करना पड़ जाएगा'' राहुल गांधी ने कहा,''उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री मूर्खतापूर्ण ढंग से व्यवहार कर रहे हैं। गिरफ्तार किए गए पत्रकारों को रिहा करने की जरूरत है। 

गौरतलब है कि उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के बारे में कथित तौर पर आपत्तिजनक पोस्ट और खबरें प्रसारित करने के लिए प्रशांत कनौजिया समेत कुछ पत्रकारों को गिरफ्तार किया गया है। विभिन्न पत्रकार समूहों ने इन गिरफ्तारियों की निंदा की है।

प्रशांत कनौजिया ने गिरफ्तारी के खिलाफ सुप्रीम कोर्ट में अपील की। जिसपर आज सुनवाई हुई और इस दौरान शीर्ष अदालत ने उत्तर प्रदेश की योगी सरकार को फटकार लगाई। सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि पत्रकार को तुरंत रिहा किया जाना चाहिए।

DainikSavera APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS

Web Title: rahul gandhi attacks on cm yogi adityanath

More News From national

Next Stories
image

free stats