image

एक तरफ चुनाव में जीत के लिए प्रचार तोज हो रहे हैं, वहीं दूसरी रोहित शेखर तिवारी की हत्या से पूर्व मुख्यमंत्री नारायण दत्त के घर में शोक की लहर छाई है। पूर्व मुख्यमंत्री नारायण दत्त तिवारी के बेटे रोहित शेखर तिवारी की मौत में हत्या का खुलासा होने के बाद पुलिस की तफ्तीश रोहित के परिवार तक पहुंच गई है। दिल्ली पुलिस क्राइम ब्रांच की टीम डिफेंस कॉलोनी स्थित रोहित के घर पहुंची है, जहां रोहित की मां उज्ज्वला तिवारी, पत्नी और उनके ससुर से पूछताछ हो रही है। 

इनके अलावा रोहित के भाई व नौकरों से भी सवाल किए जा रहे हैं। टीम में पूछताछ के लिए महिला पुलिसकर्मी भी मौजूद हैं। शुक्रवार को रोहित की पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट में खुलासा हुआ था कि उनकी मौत मुंह दबाने से हुई है, जिसके बाद हत्या का केस दर्ज किया गया है। सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक, रोहित शेखर की पत्नी पर पहला शक है। शेखर के भाई सिद्धार्थ जो घर ही रहता था, कत्ल के वक्त घर में मोजूद था। उससे सख्ती से पूछताछ जारी है। इसके अलावा घर के नौकरों से भी सख्ती से पूछताछ की जा रही है। 

शेखर की मां से उसकी पत्नी के रिश्ते को लेकर सवाल किए जा रहे है। पत्नी अपूर्वा के कॉल रिकॉर्ड भी खंगाले जा रहे हैं। अपूर्वा ने 15-16 अप्रैल की रात जिन जिन लोगो को फोन किया उसकी पड़ताल की जा रही है। घर के तमाम लोग जो कत्ल के वक्त घर में मोजूद थे. सबके कॉल डीटेल्स खंगाले जा रहे है। वहीं, रोहित के ससुर ने क्राइम ब्रांच से अपनी बेटी को बेगुनाह बताया है। रोहित के ससुर ने कहा है कि उनकी बेटी ने कुछ गलत नहीं किया है और वो किसी की हत्या नहीं कर सकती है। रोहित शेखर की हत्या के लिए पुलिस परिवार और नौकरों से लगातार पूछताछ कर रही है। 
 

DainikSavera APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS

Web Title: Police raid on Rohit Shekhar Tiwari's death, reveals murder of brother and wife

More News From national

Next Stories
image

free stats