image

नई दिल्ली: प्रधानमंत्री के तौर पर अपनी दूसरी पारी शुरू करने जा रहे नरेन्द्र मोदी ने ‘सबका साथ-सबका विकास, सबका विश्वास’ के लक्ष्य को अपनी नई सरकार के मूल मंत्र के तौर पर पेश करते हुए कहा कि हिंदुस्तान को नई ऊंचाइयों पर ले जानेके लिए ‘हमें अल्पसंख्यकों सहि  सभी का विश्वास जीतना है।’ उन्होंने यह बात संसद के केंद्रीय कक्ष में एन.डी.ए. एवं भाजपा नेताओं को संबोधित करते हुए कही। मोदी ने गरीबों एवं अल्पसंख्यकों का उल्लेख करते हुए कहा, ‘देश में गरीब एक राजनीतिक संवाद-विवाद का विषय रहा।...गरीबों के साथ जो छल चल रहा था, उस छल में हमने छेद किया है और सीधे गरीब के पास पहुंचे हैं।’ 

उन्होंने अल्पसंख्यक वर्ग को परोक्ष संदेश देते हुए कहा कि जैसा छल गरीब के साथ हुआ, वैसा ही अल्पसंख्यक के साथ हुआ। उन्हें ‘भ्रमित-भयभीत’ रखा गया। उन्होंने कहा कि वोट बैंक की राजनीति में छलावा, काल्पनिक भय बनाया गया और उन्हें दबाकर रखा गया। प्रधानमंत्री ने नवनिर्वाचित सांसदों से कहा, ‘2019 में आपसे अपेक्षा करने आया हूं कि हमें इस छल को भी छेदना है। हमें विश्वास जीतना है।’ उन्होंने कहा, ‘जिन्होंने वोट दिया है, वो भी हमारे हैं, जिन्होंने विरोध किया, वो भी हमारे हैं। जिन्होंने आज हमारा विश्वास किया, हम उनके लिए भी हैं और जिनका हमें विश्वास जीतना है, उनके लिए भी हैं।’ 

मोदी का गुरुमंत्र

मोदी ने नव निर्वाचित सांसदों को बड़बोलेपन और मीडिया में छपने एवं दिखने की उत्कंठा से बचने की नसीहत दी। साथ ही कहा कि हमारे ऊपर बहुत बड़ी जिम्मेदारियां हैं, इन्हें हमें निभाना है, वरना देश माफ नहीं करेगा। मोदी ने कहा, ‘जनप्रतिनिधियों से मेरा आग्रह रहेगा कि मानवीय संवेदनाओं के साथ अब कोई भी हमारे लिए पराया नहीं रह सकता है। इसकी ताकत बहुत बड़ी होती है। दिलों को जीतने की कोशिश करेंगे।’ प्रधानमंत्री ने कहा कि अटल-अडवानी कहते थे कि छपास और दिखास से बचना चाहिए। इससे बचकर आप खुद को भी बचा सकते हैं और दूसरों को भी बचा सकते हैं। नए सांसदों को गुर देते हुए मोदी ने कहा कि कोई कुछ पूछे तो उसे कहें कि एक घंटा रुको, जांच करता हूं। अन्यथा मूल बात रह जाएगी और रात तक आपका बयान और न जाने क्या-क्या बयान आ जाएंगे। 

DainikSavera APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS

Web Title: PM Modi gave suggestion to all winning MPs

More News From national

Next Stories

image
free stats