image

नई दिल्ली : पाकिस्तान ने करतारपुर गलियारा चालू करने के लिए कई नियम एवं शर्तें तय की हैं और सिखों के सबसे पवित्र स्थलों में शामिल इस स्थान को पूरे साल खुला रखने के भारत के प्रस्ताव का विरोध किया है। अधिकारियों ने शनिवार को यह जानकारी दी। इस्लामाबाद ने या तो शर्ते लगाई हैं या नई दिल्ली के सभी प्रस्तावों का विरोध किया है और कहा है कि सिर्फ 700 श्रद्धालु ही गुरुद्वारा दरबार साहिब, करतारपुर का दर्शन कर सकते हैं। 

एक सरकारी अधिकारी ने बताया कि पाकिस्तान ने कहा है कि श्रद्धालुओं को सिर्फ एक विशेष परमिट व्यवस्था के तहत करतारपुर की यात्र करने की इजाजत दी जाएगी। पाकिस्तान रावी नदी पर एक पुल के निर्माण के भारत के प्रस्ताव पर सहमत नहीं हुआ है और यात्रियों को करतारपुर साहिब की पदयात्र करने की इजाजत देने के भारत के प्रस्ताव का जवाब नहीं दिया। एक अन्य अधिकारी ने कहा कि असहयोग के बावजूद गलियारे पर काम पूरी मुस्तैदी से चल रहा है और परियोजना के 12 नवंबर 2019 तक पूरी होने की उम्मीद है।

DainikSavera APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS

Web Title: Gurdwara Darbar Sahib Kartarpur

More News From punjab

Next Stories
image

Auto Expo Amritsar 2019
Auto Expo Amritsar 2019
free stats