image

नई दिल्लीः भारत को अपना पहला लड़ाकू विमान राफेल मिल गया है। राफेल विमान को लेकर देश में राजनीति होती रही है लेकिन अब फिर एक बार राफेल पर विपक्ष ने सरकार को घेरना शुरु कर दिया है, जबकि राफेल भारत को मिल गया है, उसकी वजह है, राफेल विमान का पूरी विधि विधान के साथ स्वागत करना। यानी रक्षामंत्री राजनाथ सिंह ने राफेल लड़ाकू विमान पर नींबू मिर्ची टांगी, 'ऊँ' का निशान बनाया और नारियल फोड़ा गया और पहियों के नीचे नींबू भी रखे गए, ताकि किसी की बुरी नजर न लगे। लेकिन अब इस का मजाक उड़ाया जा रहा है। सोशल मीडिया पर भी और विपक्ष के मंत्रियों द्वारा भी। 

कांग्रेस नेता संदीप दीक्षित ने रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह द्वारा राफेल विमान रिसीव करने पर ही सवाल कर दिया, उन्होंने कहा कि आखिर इसे रक्षा मंत्री ने क्यों रिसीव किया, ये काम वायुसेना ही कर सकती थी। उन्होंने कहा कि ये सिर्फ एक नया लड़ाकू विमान ही है जो हमें मिल रहा है। राफेल विमान पर नींबू पर उन्होंने कहा कि विजयदशमी और राफेल विमान की जोड़ी मैच नहीं खाती है। संदीप दीक्षित बोले कि दशहरा एक त्योहार है, जिसे हम सभी मनाते हैं, लेकिन आप इसे आने वाले एयरक्राफ्ट से क्यों जोड़ रहे हैं। इस सरकार के साथ यही दिक्कत है कि काम करने के साथ नाटक ज्यादा किया जाता है।

ना सिर्फ कांग्रेस बल्कि राफेल की इस शस्त्र पूजा ने सोशल मीडिया पर भी एक नई बहस को जन्म दे दिया है।सोशल मीडिया पर लोग लिख रहे हैं कि ऐसा पहली बार ही हुआ है जब दुनिया ने ऐसा कुछ देखा हो, या फिर कुछ लोगों ने लिखा कि भारत ने आखिरकार राफेल को देसी बना दिया। इसके अलावा राफेल के नींबू-नारियल पर कई मीम भी बन रहे हैं।

DainikSavera APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS

Web Title: congress statement on rafale pooja ceremony

More News From national

Next Stories
image

free stats