image

भारत के बड़े कारोबारी मुकेश अंबानी के भाई अनिल अंबानी पर मुसीबतों का पहाड़ टूट पड़ा है। नौबत यहां तक आ गई कि उन्हें जेल जाना पड़ सकता था लेकिन बड़े भाई मुकेश अंबानी ने छोटे भाई को जेल जाने से बचा लिया है। आखिर मुसीबत के समय भाई ही भाई के काम आया। संकट की घड़ी में बड़े भाई मुकेश अंबानी ने छोटे भाई अनिल अंबानी को सहारा दिया और एरिक्सन के 550 करोड़ रुपये के बकाये के भुगतान में मदद की। 

यहां पढ़ें...गोवा को मिला नया मुख्यमंत्री, बीजेपी के इस युवा नेता ने ली शपथ

इससे अनिल अंबानी पर जेल जाने का जो संकट आया था वह टल गया। अनिल अंबानी ने सही समय पर मदद करने के लिए बड़े भाई मुकेश और भाभी नीता अंबानी का शुक्रिया किया और आभार जताया। दरअसल, यह मामला अनिल के नेतृत्व वाली रिलायंस कम्युनिकेशंस पर दूरसंचार उपकरण बनाने वाली स्वीडन की कंपनी एरिक्सन के करीब 550 करोड़ रुपये के बकाया का निपटारा करने से जुड़ा है। 

Read More  न्यूजीलैंड : मस्जिद हमलावर ने हटाया अपना वकील, जानिए कौन करेगा पैरवी

सुप्रीम कोर्ट के आदेश के मुताबिक अनिल अंबानी को मंगलवार तक एरिक्सन का बकाया चुकाना था, नहीं चुकाने पर उन्हें न्यायालय की मानहानि के मामले में जेल जाना पड़ता। बहरहाल, आरकॉम ने सोमवार को तय समयसीमा खत्म होने से एक दिन पहले ही एरिक्सन को 550 करोड़ रुपये के बकाये का भुगतान कर दिया। अनिल अंबानी के साथ साथ आरकॉम की दो इकाइयों के चेयरमैन छाया विरानी और सतीश सेठ पर जेल जाने का खतरा मंडरा रहा था।

DainikSavera APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS

Web Title: Anil Ambani thanks mukesh ambani for helping pay off 550 crore ericsson debt atam

More News From national

Next Stories

image
free stats