image

नई दिल्लीः आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री चंद्रबाबू नायडू ने अपने राज्य को विशेष दर्जा दिलाने और आंध्र प्रदेश पुनर्गठन अधिनियम, 2014 के तहत केंद्र द्वारा किए गए अन्य वादों को पूरा किए जाने की मांग के साथ यहां 12 घंटे का अनशन शुरू कर दिया है। काले रंग की शर्ट पहने तेलुगू देशम पार्टी (तेदेपा) के अध्यक्ष ने आंध्र प्रदेश भवन में ‘धर्म पोराता दीक्षा’ शुरू किया।

Read More  ईमानदार मुझ पर विश्वास करते हैं, भ्रष्टाचारियों को मुझसे दिक्कत है : मोदी 

राजघाट पर महात्मा गांधी को श्रद्धांजलि अर्पित करने के बाद नायडू अन्य तेदेपा नेताओं के साथ आंध्र प्रदेश भवन पहुंचे और बाबा साहेब भीमराव आम्बेडर की प्रतिमा पर माल्यार्पण करने के बाद विरोध प्रदर्शन शुरू किया।नायडू के कैबिनेट सहयोगी, सांसद, राज्य के विधायक और छात्र और कर्मचारी समूह और जन संगठनों के नेता भी उनके साथ उपवास पर बैठे हैं।

Read More  बसंत पंचमी पर सेना ने PAK को दिया तगड़ा झटका

नायडू के साथ 12 घंटे लंबे विरोध प्रदर्शन में बड़ी संख्या में प्रदर्शनकारी भी शामिल हुए हैं। वे राज्य सरकार द्वारा किराए पर ली गई दो विशेष रेलगाड़ियों द्वारा राष्ट्रीय राजधानी पहुंचे।कई गैर-भाजपा दलों के नेताओं से नायडू से मिलने और उनके साथ एकजुटता व्यक्त करने की उम्मीद है।तेदेपा ने पिछले साल भाजपा की अगुवाई वाली राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (राजग) सरकार से समर्थन वापस ले लिया था। 
नायडू मंगलवार को राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद को एक ज्ञापन सौंपेंगे।

DainikSavera APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS

Web Title: Andhra Pradesh CM and Telugu Desam Party chief N Chandrababu Naidu on Hunger strike

More News From national

Next Stories
image

free stats