image

छत्तीसगढ़ः देश में इस समय भुखमरी और स्वच्छता बड़ी चुनौतियां बनकर सामने आई हैं। ऐसे में सरकारें इन कमियों को खत्म करने के पूरे प्रयास कर रही हैं। ऐसे में अब छत्तीसगढ़  नगर निगम  द्वारा एक पहल चलाई जा रही है, इस पहल में अंबिकापुर शहर में एक गार्बेज कैफे खोला गया है, जो कचरे के बदले में भूखे लोगों को भरपेट खाना देगा। 

Read More  स्कूली बच्चों को बांटे गए जूते, बॉक्स खोला तो निकला ये सब

यह देश का पहला गार्बेज कैफे होगा, जिसके अंतर्गत नगर-निगम गरीब और भुखमरी से ग्रस्त लोगों को प्लास्टिक के कचरे के बदले खाना मुहैया कराएगा। कैफे में एक किलो प्लास्टिक के बदले लोगों को भरपेट खाना दिया जाएगा, जबकि 500 ग्राम कचरे के बदले वे अच्छा नाश्ता कर सकेंगे।

Read More  सरकार ने एयर इंडिया को दिया ये बड़ा निर्देश, कर्मचारी हुए निराश

गार्बेज कैफे अंबिकापुर के मुख्य बस अड्डे पर बनेगा। इसे शुरू करने के लिए पांच लाख रुपये का शुरुआती बजट तैयार किया गया है। सड़क से प्लास्टिक का कचरा लाने वालों को यहां खाने की सुविधा दी जाएगी। सरकार की इस पहल को स्वच्छ भारत अभियान का ही एक हिस्सा बताया जा रहा है। यह कैफे बहुत जल्द शुरू होने वाला है और हो सकता है कि इसमें और भी कई तरह की सुविधाओं को जोड़ा जाए। सूत्रों के मुताबिक कचरा बीनकर सड़क पर सोने वालों को सिर छिपाने के लिए पब्लिक हाउस की सुविधा भी दी जा सकती है।
 

DainikSavera APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS

Web Title: first Garbage cafe will open soon in Chhattisgarh

More News From national

Next Stories
image

free stats