image

पटनाः अपने बयानों से हमेशा से चर्चा में रहने वाले गिरिराज सिंह ने एक बार फिर विवादित बयान दिया है। केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार में मंत्री व बिहार के बेगूसराय से भारतीय जनता पार्टी के सांसद गिरिरज सिंह के विवादित बयान पर सियासत गर्म हो गई है। उन्‍होंने कहा है कि देश में हिंदू-मुस्लिम दोनों के लिए दो बच्चों का नियम होना चाहिए और जो इस नियम को नहीं माने उसका वोटिंग का अधिकार खत्‍म कर देना चाहिए। उनके बयान पर प्रतिक्रिया देते हुए समाजवादी पार्टी (SP) के सांसद आजम खान  ने तंज कसा कि दो बच्‍चों से ज्‍यादा होने पर तो फांसी दे देनी चाहिए। 

जनसंख्‍या नियंत्रण को लेकर गिरिराज सिंह के बयान पर बिहार में सियासत गर्म हो गई है। बयान का समर्थन राष्‍ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन में बीजेपी के सहयोगी जनता दल यूनाइटेड (JDU) ने किया है तो विपक्षी महागठबंधन ने इसकी आलोचना की है। बीजेपी विधायक सचिंद्र कुमार तथा जेडीयू विधायक ललन पासवान व ज्‍योति कुमार ले कहा है कि जनसंख्‍या नियंत्रण पर कानून देशहित में है। जनसंख्‍या पर नियंत्रण होना चाहिए। 

गिरिराज के बयान पर सबसे कड़ी प्रतिक्रिया उत्‍तर प्रदेश (UP) से समाजवादी पार्टी (SP) के सासंद आजम खान ने दी है। उन्‍होंने तंज कसते हुए कहा कि दो से अधिक बच्‍चे होने पर वोटिंग का अधिकार क्‍या खत्‍म करना, फांसी दे देनी चाहिए। इसके बाद अगला बच्‍चा होगा ही नहीं।  वहीं गिरिराज सिंह ने कहा कि वोट के ठेकेदारों ने जनसंख्या को धर्म से जोड़ दिया है। जनसंख्‍या नियंत्रण को इस्लामिक देश स्वीकार कर रहे हैं, लेकिन भारत में इसे धर्म से जोड़ा जाता है। गिरिराज सिंह ने कहा कि जहां-जहां हिंदूओं की जनसंख्या गिरती है, वहां-वहां सामाजिक समरसता टूटती है। देश में कुछ लोग अपने लाभ के लिए समाज में विषमता फैलाते हैं। ओवैसी जैसे लोग सामाजिक समरस्ता में सबसे बड़े बाधक हैं।

DainikSavera APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS

Web Title: Giriraj Singh gives controversial statement

More News From national

Next Stories

image
free stats