image

नई दिल्लीः बिहार में आए दिन मासूम बच्चें तपते बुखार के जिंदगी की जंग हार रहे हैं। बिहार में चमकी बुखार के कारण बच्चों की मौत के मामले पर सुप्रीम कोर्ट सोमवार को सुनवाई करेगा। सुप्रीम कोर्ट में एक याचिका दायर कर इंसेफ़्लाइटिस (एईएस) से हो रही बच्चों की मौत पर सुनवाई की मांग की गई है। 

कोर्ट में याचिका दायर कर मांग की गई है कि बिहार में उन बच्चों के इलाज के लिए केंद्र को तुरंत विशेषज्ञ डॉक्टरों की टीम गठित करने का निर्देश देने की मांग की गई है। वकील मनोहर प्रताप ने अपनी याचिका में कहा है कि सुप्रीम कोर्ट केंद्र को यह निर्देश दे कि वह इस महामारी से पीड़ित बच्चों के प्रभावी इलाज के लिए सभी आवश्यक चिकित्सा उपकरण और दूसरी मदद उपलब्ध कराए। 

यह याचिका तब दायर की गई जब बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने मुजफ्फरपुर का दौरा किया और स्थिति का जायजा लेने के लिए अधिकारियों के साथ बैठक की थी। नीतीश कुमार मंगलवार की सुबह मुजफ्फरपुर स्थित एसकेएमसीएच अस्पताल पहुंचे जहां एक जून से अब तक 300 से अधिक बच्चे एईएस के लक्षणों के कारण भर्ती किए गए हैं। 
 

DainikSavera APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS

Web Title: Chamkti fever to the Supreme Court, Will be hearing on Monday

More News From national

Next Stories
image

free stats