image

मनुष्य जीवन में कई ऐसी मान्यताएं है जिनका समाज में बहुत एहम स्थान होता है। आमतौर पर लड़कियों को हर महीने होने वाले पीरिड्स होते हैं। जिससे जुड़ी अशुद्ध और छूत की मान्यताएं समाज के बीच में बनी हुई है। अक्सर पीरियड्स के दौरान लड़कियां पूजा-पाठ या धार्मिक कामों से दूरी बना लेती हैं। कहीं-कहीं तो लड़कियों इस दौरान अकेले और अलग रहने की मान्यताएं निभाई जाती है। लेकिन इसी बीच कोई जगह ऐसी भी है जहां पीरियड्स के दौरान भव्य उत्सव मनाया जाता है। ये जानकर आपको हैरानी जरुर हो रही होगी लेकिन ये सच है। आइए जानते हैं कौन सी है वह जगह-

बता दें उड़ीसा में माहवारी होने पर उत्सव मनाया जाता है। जिसे  ‘राजपर्व उत्सव’ के नाम से जाना जाता है। 4 दिन तक चलने वाले इस उत्सव को ‘राजपर्व’ नाम से जाना जाता है, जिसे हर साल चार दिन तक चलने वाले इस पर्व के पहले दिन को पहीलि रजो, दूसरे दिन को मिथुन संक्राति, तीसरे दिन को भूदाहा या बासी रजा और आखिरी दिन को वासुमति स्नान के नाम से जाना जाता है। इस उत्सव की सबसे खास बात ये है कि इसमें केवल वही स्त्रियां भाग लेती हैं जो इस दौरान मासिक चक्र के दौर से गुजर रही होती हैं, लेकिन यदि दूसरी महिलाएं भी इस उत्सव में शामिल होना चाहती हैं तो उन्हें मना नहीं किया जाता।

इस उत्सव में पेड़ों पर झूले लगाकर लड़कियां झूला झूलती हैं। साथ ही नए कपड़े और सज-संवरकर गीत गाती हैं। इस दौरान लड़कियां एक-दूसरे को हल्दी लगाकर दूध से स्नान करती हैं।

DainikSavera APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS

Web Title: menstrual hygiene day 2019

More News From life-style

Next Stories
image

free stats